प्लानिंग और कमीशनिंग

रिपोर्टरों से रिपोर्टें मँगवाना और उनकी रिपोर्ट की ख़ूबियों-कमियों के बारे में बताना एक महत्वपूर्ण काम होता है. क्या सामग्री चाहिए, क्या हो सकता है, क्या नहीं हो सकता – ऐसी बातों को लेकर स्पष्टता ज़रूरी है. इसके लिए परस्पर संवाद बहुत ज़रूरी है. कमीशनिंग और प्लानिंग की प्रक्रिया के बारे में बता रही हैं बीबीसी की भारतीय भाषाओं की प्रमुख रूपा झा जो बीबीसी हिन्दी की प्लानिंग संपादक भी रह चुकी हैं.

रिपोर्टरों से रिपोर्टें मँगवाना और उनकी रिपोर्ट की ख़ूबियों-कमियों के बारे में बताना एक महत्वपूर्ण काम होता है. क्या सामग्री चाहिए, क्या हो सकता है, क्या नहीं हो सकता – ऐसी बातों को लेकर स्पष्टता ज़रूरी है. इसके लिए परस्पर संवाद बहुत ज़रूरी है. कमीशनिंग और प्लानिंग की प्रक्रिया के बारे में बता रही हैं बीबीसी की भारतीय भाषाओं की प्रमुख रूपा झा जो बीबीसी हिन्दी की प्लानिंग संपादक भी रह चुकी हैं.

स्टाफ़़ का साइन इन

कृप्या प्रतीक्षा करें और हमें देखने दें कि आप बीबीसी के आंतरिक नेटवर्क से जुड़े हैं या नहीं.

क्षमा करें, हम आपको बीबीसी के आंतरिक नेटवर्क पर नहीं ढूंढ पा रहे हैं.

  • चेक करें कि आप बीबीसी के आंतरिक नेटवर्क से जुड़े हैं या नहीं.
  • लिंक की दोबारा जांच करें.
चुनें और आगे बढ़ें.

आप बीबीसी नेटवर्क से जुड़े हुए हैं.

बंद करें और आगे बढ़ें.