एशिया कप: कोहली की कप्तानी में जीत से हो पाएगी शुरुआत?

  • 26 फरवरी 2014
विराट कोहली

एशिया कप क्रिकेट टूर्नामेंट में बुधवार को भारत और मेज़बान बांग्लादेश आमने-सामने होंगे.

पांच बार की चैंपियन भारतीय टीम इस बार विराट कोहली की कप्तानी में उतरी है क्योंकि भारत के नियमित कप्तान महेंद्र सिंह धोनी चोटग्रस्त हैं.

विराट कोहली सीनियर स्तर पर पहली बार किसी टूर्नामेंट में भारत की कप्तानी कर रहे हैं, इसलिए उन पर ख़ास तौर से नज़रें टिकी हैं. इससे पहले वह वेस्टइंडीज़ और ज़िम्बाब्वे के ख़िलाफ़ भारत की कमान संभाल चुके हैं.

टूर्नामेंट का पहला मैच मंगलवार को पाकिस्तान और श्रीलंका के बीच खेला गया, जिसमें श्रीलंका को 12 रनों से जीत मिली. इस टूर्नामेंट में जो पांच टीमें हिस्सा ले रही हैं उनमें अफ़ग़ानिस्तान भी शामिल है.

विराट पहली बार तब चर्चा में आए थे जब उनकी कप्तानी में भारत ने अंडर-19 विश्व कप क्रिकेट टूर्नामेंट जीता था.

एक कप्तान के तौर पर विराट अभी तक आठ मैचों में भारत की कप्तानी कर चुके है, जिनमें सात मैच भारत ने जीते और एक मैच में उसे हार का सामना करना पडा.

किसमें कितना दम

एकदिवसीय क्रिकेट में एक बल्लेबाज़ के रूप में विराट का रिकॉर्ड दमदार है. विराट अभी तक 130 एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय मैच खेल चुके हैं.

उन्होंने 18 शतक और 30 अर्धशतक जमाए हैं. विराट ने 51.85 के प्रभावी औसत से 5445 रन बनाए हैं.

भारत और बांग्लादेश की तुलना करें तो भारतीय टीम ख़ासी मज़बूत रही है लेकिन बांग्लादेश ने भी कई उलटफेर किए हैं.

बांग्लादेश क्रिकेट
बांग्लादेश की टीम पिछली बार एशिया कप के फ़ाइनल में पहुंची थी.

साल 2012 में खेले गए पिछले एशिया कप में तो बांग्लादेश फाइनल तक पहुंचा जहां, उसे पाकिस्तान ने मुश्किल से दो रन से हराया.

इसके अलावा बांग्लादेश की टीम ने हाल ही में श्रीलंका के ख़िलाफ़ टेस्ट और एकदिवसीय सिरीज़ खेली है जिसमें भले ही उसे हार का सामना करना पड़ा लेकिन उसके खिलाड़ियों की तैयारी अच्छी है.

अगर भारत के पास शिखर धवन, रोहित शर्मा, कप्तान विराट कोहली, अजिंक्य रहाणे, दिनेश कार्तिक, रविंद्र जडेजा, अंबाती रायडू और चेतेश्वर पुजारा जैसे अच्छे बल्लेबाज़ हैं तो बांग्लादेश के पास कप्तान मुशफ़िकुर रहीम के रूप में अनुभवी और शानदार बल्लेबाज़ है.

अमित मिश्रा को अवसर मिलेगा?

सलामी बल्लेबाज़ अनामुल हक़ और शमसुर रहमान भी अच्छी शुरुआत देने में माहिर हैं.

बांग्लादेश को एशिया कप शुरू होने से पहले तब बड़ा झटका लगा जब उसके भरोसेमंद बल्लेबाज़ तमीम इक़बाल चोट के कारण टूर्नामेंट से बाहर हो गए.

ऑलराउंडर शाकिब अल हसन टीवी पर अभद्र इशारे के कारण तीन मैच के प्रतिबंध का सामना कर रहे हैं और एशिया कप के शुरुआती दो मैचों में नहीं खेलेंगे.

गेंदबाज़ी में भारत के पास भुवनेश्वर कुमार, मोहम्मद शामी और ऑफ़ स्पिनर आर अश्विन के रूप में तेज़ और स्पिन का मिश्रण है जबकि लेफ्ट आर्म स्पिनर रवींद्र जडेजा भी स्पिन का दायित्व संभालेंगे. अब यह देखना दिलचस्प होगा कि क्या लेग स्पिनर अमित मिश्रा को अवसर मिलेगा या नही?

एशिया कप में विराट कोहली के सामने जहां भविष्य के कप्तान के रूप में ख़ुद को स्थापित करने का अवसर होगा तो वहीं टीम इंडिया के पास इस सत्र में पहली जीत करने का मौका होगा.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)