आईपीएल: नीलाम होंगे क्रिकेट के सितारे

  • 12 फरवरी 2014
आईपीएल चैंपियन

इन दिनों चारों तरफ आईपीएल में सट्टेबाज़ी से जुडे मामले छाए हुए है तो दूसरी तरफ बुधवार को सबकी निगाहें आईपीएल-7 में खिलाड़ियों की नीलामी पर लगी रहेगी.

इस नीलामी का आयोजन बंगलौर में होगा. पहली बार आईपीएल में खिलाड़ियों की बोली भारतीय रुपए में लगेगी.

इसमें कुल मिलाकर 514 खिलाड़ी है.

अब यह जानना सबसे मह्त्वपूर्ण है कि इनमें से ऐसे कौन से पांच खिलाड़ी है जो फ्रैंचाइज़ी की पहली पसंद हो सकते है.

1. वीरेंदर सहवाग

सहवाग
सहवाग पहले छह सत्र में दिल्ली डेयरडेविल्स की तरफ से खेले थे.

धुरंधर बल्लेबाज़ वीरेंदर सहवाग भले ही खराब फार्म के कारण इन दिनों भारतीय टीम से बाहर हो लेकिन उनका रिज़र्व मूल्य दो करोड़ रुपए रखा गया है.

दिल्ली डेयरडेविल्स को तो अपनी सारी टीम नए सिरे से चुननी होगी क्योंकि उसने अपने किसी भी खिलाड़ी को सांतवे सत्र के लिए नहीं रखा है.

सहवाग शुरू से ही इस टीम का हिस्सा थे. ट्वेंटी-20 क्रिकेट में सहवाग का रिकॉर्ड उन्हें सबसे अलग खिलाड़ी बनाता है.

जिस दिन उनका बल्ला चलता है उस दिन टीम की जीत तय मानी जाती है.

ट्वेंटी-20 फॉर्मेट में उनका स्ट्राइक रेट 152.82 का है और 120 मैचों में वह अभी तक 3084 रन बना चुके हैं.

2. केविन पीटरसन

पीटरसन
पीटरसन ने हाल में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट को अलविदा कहा.

इंग्लैंड के केविन पीटरसन का भी रिज़र्व मूल्य दो करोड़ रुपए रखा गया है.

हाल ही में उन्हें इंग्लैंड की टीम से बाहर कर दिया गया है.

लेकिन ट्वेंटी-20 क्रिकेट में उनकी क्षमताओं को सभी जानते है.

ख़ासकर भारत के विकेट उन्हे रास भी आते है. ट्वेंटी-20 क्रिकेट में उनका स्ट्राइक रेट 137.10 है. वह 85 ट्वेंटी-20 मैचों में वह अभी तक 2402 रन बना चुके है.

3. डेविड वार्नर

डेविड वार्नर
डेविड वार्नर विस्फोटक बल्लेबाज़ के साथ-साथ एक बेहतरीन फील्डर भी है

ऑस्ट्रेलिया के धुरंधर सलामी बल्लेबाज़ डेविड वार्नर के नाम पर भी ख़ूब बोली लग सकती है.

वैसे भी ट्वेंटी-20 क्रिकेट में सभी टीमों की दिलचस्पी बल्लेबाज़ों को ख़रीदने में अधिक होगी.

वार्नर दिल्ली डेयरडेविल्स टीम का हिस्सा रहे है. उनका बेस प्राइस भी दो करोड़ रुपए है.

160 ट्वेंटी-20 मैचों का अनुभव रखने वाले वार्नर का स्ट्राइक रेट 141.08 का है और उनके खाते में जमा 4557 रन उनकी कामयाबी की दास्तान ख़ुद सुनाते है.

इसके अलावा वह एक बेहतरीन फील्डर भी है.

4. माइकल हसी

माइकल हसी
ऑस्ट्रेलिया के माइकल हसी तेज़ी से रन बनाने में माहिर हैं.

ऑस्ट्रेलिया के ही माइकल हसी एक ऐसे खिलाड़ी है जो निचले क्रम पर आकर तेज़ी से रन बनाने की क्षमता रखते है.

ख़ासकर जब कम गेंदों पर अधिक रन बनाने हो. इससे पहले वह चेन्नई सुपर किंग्स के लिए खेल चुके हैं.

मिस्टर क्रिकेट ने नाम से मशहूर हसी अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास ले चुके हैं.

उनका बेस प्राइस भी दो करोड़ रुपए रखा गया है.

5. शॉन मार्श

शान मार्श
शॉन मार्श पिछले संस्करणों में किंग्स इलवेन पंजाब के लिए खेल चुके हैं.

इनके अलावा नीलामी में ऑस्ट्रेलिया के शॉन मार्श का बेस प्राइस भी दो करोड रुपए रखा गया है.

किंग्स इलेवन पंजाब के लिए खेल चुके मार्श ट्वेंटी-20 क्रिकेट में अभी तक 113 मैचों में 3956 रन बना चुके हैं, वह भी 129.83 के स्ट्राइक रेट के साथ.

वैसे इस लिस्ट में न्यूज़ीलैंड के कोरी एंडरसन को नज़रअंदाज़ नहीं किया जा सकता. हाल ही में उन्होने वेस्टइंडीज़ और भारत के ख़िलाफ कई ज़ोरदार पारियां खेली है.

इन खिलाड़ियों के ख़रीदने के लिए राजस्थान रॉयल्स, चेन्नई सुपर किंग्स, रॉयल चैलेंजर्स बंगलौर, कोलकाता नाइट राइडर्स, किंग्स इलेवन पंजाब, दिल्ली डेयरडेविल्स, हैदराबाद सनराइजर्स और मुंबई इंडियंस के अधिकारी अपनी सलाहकार टीम के साथ बोली लगाएंगे.

नज़रें

बुधवार को नीलाम होने वाले खिलाड़ियों में भारत के युवराज सिंह, न्यूज़ीलैंड के कप्तान ब्रैंडन मैकुलम, भारत के ही पठान बंधु इरफान और यूसुफ के साथ-साथ बांग्लादेश के साकिब उल हसन पर भी सबकी नज़रे रहेंगी.

पिछले दिनों भारत दौरे पर आई ऑस्ट्रेलियाई एकदिवसीय क्रिकेट टीम के कप्तान रहे जॉर्ज बेली भी आकर्षण का केंद्र रहेंगे.

भारत के तेज़ गेंदबाज़ मोहित शर्मा, दक्षिण अफ्रीका के क्वेंटन डी कॉक और फफ डू प्लेसी पर भी फ्रेंचाइज़ी अपना दांव लगा सकती हैं.

इसके अलावा बहुत से नए चेहरे भी इस बार टीमों में नज़र आ सकते है. ईशांत शर्मा, ज़हीर खान और अनुभवी आशीष नेहरा के साथ-साथ दक्षिण अफ्रीका के ज़ाक कैलिस और मोर्ने मोर्कल भी नीलामी में चर्चा में रह सकते है.

विवादों का पिटारा

चीयर लीडर्स

अब ऐसा नही है कि आईपीएल में सिर्फ़ क्रिकेट ही खेला जाता है. इसके साथ जुडे विवाद भी कम नहीं है.

1. ताज़ा विवाद तो चेन्नई सुपर किंग्स के अधिकारी के रूप में बीसीसीआई के अध्यक्ष एन श्रीनिवासन के दामाद गुरूनाथ मेयप्पन के मैचों के दौरान सट्टेबाज़ी और टीम की सूचनाएं लीक करने को लेकर है.

2. आईपीएल में खिलाड़ी भी कम विवाद में नहीं रहे. राजस्थान रॉयल्स के एस श्रीसंत, स्पिनर अंकित चव्हाण, अमित सिंह और सिद्धार्थ त्रिवेदी को स्पॉट फिक्सिंग के आरोपों में जेल जाना पडा.

3. इसके अलावा हरभजन सिंह द्वारा एस श्रीसंत को लगाया गया थप्पड़ कौन भूल सकता है. वह थप्पड़ हरभजन सिंह को बहुत महंगा पडा.

4. इतना ही नहीं आईपीएल के पूर्व कमिशनर ललित मोदी पर भी गंभीर आरोप लगे और उन्होंने तो यहां तक कहा कि उनकी जान को ख़तरा है.

5. आईपीएल पार्टी और चीयर लीडर्स से जुड़ी घटनाएं भी आईपीएल की छवि को चोट पहुंचाती रही हैं.

अब देखना है कि आईपीएल के सातंवे संस्करण में क्या कुछ होता है लेकिन उससे पहले सबकी दिलचस्पी तो बुधवार को खिलाड़ियों की नीलामी में है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार