रोनाल्डो ने मेसी को पछाड़ा, बने सर्वश्रेष्ठ फ़ुटबॉलर

  • 14 जनवरी 2014

रियाल मड्रिड फ़ुटबॉल क्लब के फॉरवर्ड खिलाड़ी क्रिस्तियानो रोनाल्डो ने साल 2013 का फ़ीफ़ा बैलॉन डिओर पुरस्कार जीत लिया है.

उन्होंने बार्सिलोना क्लब के लायनेल मेसी और बायर्न म्यूनिख के फ़्रैंक रिबेरी को मात देकर ये ख़िताब हासिल किया है.

रियाल के इस 28 वर्षीय पुर्तगाली कप्तान को राष्ट्रीय कोचों, कप्तानों और पत्रकारों ने साल 2008 के बाद पहली बार दुनिया के सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी के तौर पर नामांकित किया था.

रोनाल्डो को कुल मिलाकर 1,365 अंक हासिल हुए जबकि मेसी 1,205 और रिबेरी 1,127 अंक ही पा सके.

इसमें 184 कोच, 184 राष्ट्रीय कप्तानों और वैश्विक मीडिया के 173 सदस्यों ने अपना मत दिया था.

लायनेल मेसी लगातार चार बार ये ख़िताब जीत चुके हैं लेकिन इस बार रोनाल्डो इसके प्रबल दावेदार माने जा रहे थे.

साल 2013 उनके लिए बेहद शानदार रहा था. उन्होने 56 मैचों में 66 गोल दाग़े थे.

भावुक पल

पुरस्कार लेते वक्त रोनाल्डो बेहद भावुक होकर रो पड़े

पुरस्कार की घोषणा के बाद मंच पर बोलने आए रोनाल्डो बेहद भावुक हो गए.

नम आंखों के साथ उन्होंने उन्होने कहा, ''सबसे पहले मैं अपने क्लब और राष्ट्रीय टीम के सभी साथियों को धन्यवाद देता हूं. उन सबके प्रयासों के बिना ये मुमकिन नहीं हो पाता. मैं बहुत ख़ुश हूं. इस पुरस्कार को जीतना बहुत मुश्किल है.''

रोनाल्डो ने कहा, ''हर वो शख़्स जो निजी तौर पर मुझसे जुड़ा है मैं उसका शुक्रिया अदा करता हूं. मेरी पत्नी, मेरे दोस्त, मेरा बेटा. ये बहुत ही भावुक पल है. मैं इसमें शामिल हर किसी का शुक्रिया ही कह सकता हूं.''

जर्मनी की गोलकीपर नदीन आंगरर ने दुनिया की सर्वश्रेष्ठ महिला खिलाड़ी का पुरस्कार जीता.

अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक कमेटी के पूर्व अध्यक्ष जॉक रोग को फ़ीफ़ा प्रेज़ीडेंशियल अवॉर्ड दिया गया.

अफ़ग़ानिस्तान फ़ुटबॉल संघ को एक युद्धग्रस्त देश में खेल को बढ़ावा देने के लिए फ़ेयर प्ले पुरस्कार के लिए चुना गया.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार