ग्राफ़िक्स: सचिन 'रिकॉर्ड' तेंदुलकर

  • 16 नवंबर 2013

शनिवार यानी 16 नवंबर को मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में सचिन तेंदुलकर ने क्रिकेट जीवन को अलविदा कह दिया. ये उनका आखिरी मैच था जिसमें टीम इंडिया ने वेस्ट इंडीज पर जीत दर्ज करके सचिन को शानदार विदाई दी.

सचिन तेंदुलकर ने 24 साल के लंबे क्रिकेट करियर में 34 हज़ार से ज्यादा रन बनाए हैं. इस रिकॉर्डतोड़ सफ़र में सचिन ने टेस्ट और वनडे दोनों प्रारूप में नियमित तौर पर शानदार प्रदर्शन किया है.

वे टेस्ट और वनडे दोनों प्रारूप में सबसे ज़्यादा मैच खेलने और सबसे ज़्यादा रन बनाने वाले क्रिकेटर हैं. हालांकि उन्होंने भारत की ओर से सिर्फ़ एक टी-20 मैच खेला है.

सचिन तेंदुलकर ने भारत की ओर से अपने करियर की शुरुआत साल 1989 में महज 16 साल की उम्र में की थी. उनके नाम क्रिकेट के तमाम रिकॉर्ड दर्ज हैं. इनमें सबसे प्रसिद्ध रिकॉर्ड उन्होंने मार्च, 2012 में ढाका में तब बनाया जब उन्होंने बांग्लादेश के ख़िलाफ़ 114 रन बनाते हुए अपना सौवां अंतर्राष्ट्रीय शतक ठोका.

दूसरे नंबर पर ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाज़ रिकी पॉन्टिंग हैं जिन्होंने अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में 71 शतक बनाए हैं. कई खिलाड़ियों और कमेंटेटरों का मानना है कि सचिन के शतकों का रिकॉर्ड शायद ही टूटे.

सचिन 'रिकॉर्ड' तेंदुलकर

हालांकि सचिन को अपना सौवां शतक बनाने के लिए लंबा इंतज़ार करना पड़ा. करियर के 99वें शतक के बाद उन्हें अपने सौवें शतक के लिए 12 वनडे मैच और 11 टेस्ट मैच तक इंतज़ार करना पड़ा था.

नवंबर, 2011 में मुंबई में वेस्टइंडीज़ के ख़िलाफ़ 94 रन तक सचिन पहुंचे जरूर, लेकिन अपना सौवां शतक नहीं बना सके थे.

अगर इससे पिछली 20 पारियों में सचिन के प्रदर्शन की तुलना करे तो उन्होंने सात शतक बनाए थे, जिसमें तीन वनडे मैच में थे, जबकि चार टेस्ट मैचों में.

ऐसा महान बल्लेबाज़ आउट भी होता रहा है.

तेंदुलकर अपने करियर में 680 बार आउट हुए हैं इनमें 60 फ़ीसदी बार वे कैच आउट हुए.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)