पुणे वॉरियर्स की आईपीएल से छुट्टी

  • 26 अक्तूबर 2013
अब आईपीएल में नहीं दिखेगी पुणे वॉरियर्स टीम

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड ने आईपीएल की टीम पुणे वॉरियर्स की फ्रेंचाइजी रद्द कर दी है.

बीसीसीआई कार्यकारी समिति की शनिवार को चेन्नई में हुई मीटिंग में ये फैसला किया गया.

पुणे वारियर्स पर ये कार्रवाई बैंक गारंटी के तौर अगले साल के लिए फ्रेंचाइजी फीस नहीं देने पर की गई.

फ्रेंचाइजी को बैंक गारंटी के तौर पर अगले साल के लिए 170.2 करोड़ रुपए देने थे.

वैसे पुणे फ्रेंचाइजीके मालिक सहारा ग्रुप ने इस साल मई में ही आईपीएल से हाथ खींचने की घोषणा कर औपचारिक सूचना बीसीसीआई को दे दी थी.

हांलाकि बीसीसीआई का कहना है कि उसने गारंटी मनी के लिए सहारा ग्रुप को कई बार याद दिलाया.

सहारा ने 1702 करोड़ रुपए में खरीदा था

पुणे वॉरियर्स को सहारा ग्रुप ने 370 मिलियन अमरीकी डॉलर (करीब 1702 करोड़ रुपए) में वर्ष 2010 में खरीदा था.

आईपीएल में खरीदी गई ये सबसे मंहगी फ्रेंचाइजी थी.

उसकी सदस्यता रद्द होने से बीसीसीआई को खासा आर्थिक नुकसान उठाना होगा.

पुणे वॉरियर्स के निकलने के बाद आईपीएल में टीमों की संख्या फिर आठ रह गई है.

अब ये देखना दिलचस्प होगा कि आईपीएल के अगले सत्र में टीमों की संख्या आठ ही रहेगी या बीसीसीआई एक नई फ्रेंचाइजी के लिए नीलामी प्रक्रिया पूरा करेगी.

बीसीसीआई के अध्यक्ष पद पर एन, श्रीनिवासन के फिर से कार्यभार संभालने के बाद ये बोर्ड कार्यकारी समिति की पहली बैठक थी.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार