सचिन का जीवन: विविध रंगों में

  • 10 अक्तूबर 2013

ये सचिन की अत्यंत पुरानी तस्वीरों में से है जो बीबीसी के पास है. इन दिनों सचिन ने खेलना शुरु ही किया था. घुंघराले बाल और आगे चलकर फ्रेंचकट दाढ़ी सचिन की पहचान बन गए थे.

वो शतक बनाने के बाद हेलमेट को चूमना सचिन की निशानी थी. जब सचिन एक बड़े स्टार के रुप में स्थापित हुए तो उन्हें कई बार सम्मानों के लिए बुलाया गया और वो हमेशा कड़ी मेहनत की वकालत करते रहते.

वनडे का विश्व कप जीतने के बाद भारतीय टीम ने सचिन को गोद में उठा लिया था. यह कप भारतीय टीम ने सचिन के लिए उपहार बताया था.

ये है सचिन की दो मूर्तियां. एक तरफ जहां मैडम तुसॉद में उनकी मूर्ति को आखिरी रुप दिया जा रहा है वहीं दूसरी तस्वीर में उनकी मूर्ति सिडनी के क्रिकेट ग्राउंड में रखी गई है.

सचिन इस समय राज्यसभा के मनोनीत सदस्य हैं. ये संसद में आते हुए उनकी तस्वीर है. दूसरी तरफ की तस्वीर है जब उन्हें एयरफोर्स में शामिल किया गया था.

सचिन के फैन्स के लिए उनका ये अंदाज़ सबसे प्यारा रहा है. शतक बनाने के बाद दोनों हाथ हवा में और आंखें ऊपर आसमान की तरफ मानो कि वो भगवान से बातें कर रहे हों.

सचिन को कारें बेहद पसंद हैं ये उन्हें चाहने वाले जानते ही हैं. पिछले दिनों उन्होंने बीएमडबल्यू के लिए प्रचार भी किया. कई विज्ञापन करने वाले सचिन के साथ टीवी पर क्रिकेट सीरिज़ भी हुई.

अपने बच्चों के साथ सचिन तेंदुलकर. सारा और अर्जुन. सचिन का जन्मदिन कहीं भी हो. भारत के कई हिस्सों में लोग इसे धूमधाम से मनाते हैं.