मुंबई इंडियन्स ने जीता चैंपियन्स लीग का खिताब

  • 7 अक्तूबर 2013

मुंबई इंडियन्स ने राजस्थान रॉयल्स की टीम को फिरोजशाह कोटला मैदान में 33 रन से हराकर न सिर्फ चैंपियन्स लीग खिताब जीत लिया है बल्कि टीम के वरिष्ठ खिलाड़ी सचिन तेंदुलकर को विजयी विदायी का तोहफा भी दे दिया.

मुंबई ने पहले छह विकेट पर 202 रन का विशाल स्कोर खड़ा किया और उसके बाद राजस्थान की टीम को उन्नीसवें ओवर में महज 169 रन पर थाम लिया.

मुंबई ने इसके साथ ही तीन वर्षों में दूसरी बार चैंपियन्स लीग का खिताब जीत लिया. मुंबई ने एक ही सत्र में आईपीएल और चैंपियन्स लीग जीतने का कारनामा भी कर दिखाया है.

मुंबई इंडियन्स की जीत के हीरो रहे हरभजन सिंह जिन्होंने पारी के 17वें ओवर में अजिंक्या रहाणे, स्टुअर्ट बिन्नी और केवोन कूपर के विकेट झटके. इसके अलावा हरभजन ने खतरनाक आलराउंडर शेन वाटसन को भी पवेलियन भेजा.

राजस्थान की पारी का आखिरी विकेट गिरते ही मुंबई के खिलाड़ी खुशी से उछल पड़े और टीम के डग आउट में बैठे खिलाड़ी मैदान में दौड़कर बाकी खिलाड़ियों को गले लगा लिया. विजयी खिलाड़ियों ने सचिन तेंदुलकर को अपने कंधों पर उठा लिया.

विजयी विदाई

सचिन के हाथों में मुंबई इंडियन्स का झंडा था. सचिन ने इस साल आईपीएल छह जीतने के बाद आईपीएल को अलविदा कहा था और अब चैंपियन्स लीग जीतने के बाद खेल के सबसे छोटे प्रारूप को भी अलविदा कह दिया.

राजस्थान के कप्तान राहुल द्रविड़ के लिए यह थोड़ा दुखद रहा कि वह ट्वंटी20 से विजयी विदायी नहीं ले पाए. उनकी टीम खिताबी मुकाबले में पराजित हो गई और वह खुद भी सिर्फ एक रन ही बना सके. फिर भी द्रविड़ ने पवेलियन लौटते समय अपना बल्ला उठाकर दर्शकों का अभिवादन स्वीकार किया.

इससे पहले सलामी बल्लेबाज ड्वेन स्मिथ, ग्लेन मैकसवेल और कप्तान रोहित शर्मा की विस्फोटक पारियों से आईपीएल चैंपियन मुंबई इंडियन्स ने राजस्थान रायल्स के सामने 202 रन का विशाल स्कोर बनाया.

स्मिथ ने 39 गेंदों पर 44 रन में पांच चौके और एक छक्का लगाया जबकि रोहित ने सिर्फ 14 गेंदों पर 33 रन में तीन चौके और दो छक्के जड़े.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार