BBC navigation

आर्मस्ट्रांग से ओलंपिक पदक छीना गया

 गुरुवार, 17 जनवरी, 2013 को 19:31 IST तक के समाचार
आर्मस्ट्रांग

लांस आर्मस्ट्रांग का टुअर डी फ्रांस का ख़िताब पहले ही छीन लिया गया था

अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक समिति (आईओसी) मशहूर साइकिलिस्ट लांस आर्मस्ट्रांग का वर्ष 2000 के सिडनी ओलंपिक में जीता कांस्य पदक छीन लिया है.

डोपिंग का दोषी पाए जाने के बाद अंतरराष्ट्रीय साइकिलिंग यूनियन (यूसीआई) पहले ही उनके टुअर डी फ्रांस के सात ख़िताब छीन चुका है.

आर्मस्ट्रांग को यूसीआई के फ़ैसले के ख़िलाफ़ अपील करने के लिए 21 दिनों का समय मिला था, लेकिन उन्होंने ऐसा नहीं किया.

आईओसी के प्रवक्ता ने ओलंपिक पदक छीने जाने की पुष्टि करते हुए बताया, "हमने आर्मस्ट्रांग को पत्र भेजकर पदक लौटाने को कहा है. ये फ़ैसला सिद्धांत रूप में कार्यकारी बोर्ड की बैठक में क्रिसमस के पहले ही ले लिया गया था. लेकिन हम यूसीआई की ओर से उस पुष्टि की प्रतीक्षा कर रहे थे कि उन्होंने अपील की है या नहीं."

प्रतिबंध

"मने आर्मस्ट्रांग को पत्र भेजकर पदक लौटाने को कहा है. ये फ़ैसला सिद्धांत रूप में कार्यकारी बोर्ड की बैठक में क्रिसमस के पहले ही ले लिया गया था. लेकिन हम यूसीआई की ओर से उस पुष्टि की प्रतीक्षा कर रहे थे कि उन्होंने अपील की है या नहीं."

आईओसी के प्रवक्ता

यूसीआई ने एक अगस्त 1998 के बाद आर्मस्ट्रांग के सभी ख़िताब छीन लिए थे और उन पर आजीवन पाबंदी लगा दी थी.

अमरीका की एंटी डोपिंग एजेंसी ने भी उन पर आजीवन प्रतिबंध लगाया था. एजेंसी ने आर्मस्ट्रांग के बारे में कहा था कि वे 'डोपिंग के खिलाड़ी' थे.

हाल ही में आर्मस्ट्रांग ने ओपरा विनफ़्री के चैट शो में हिस्सा लिया था, जिसकी रिकॉर्डिंग हो चुकी है. इसका प्रसारण शुक्रवार और शनिवार को होगा.

अमरीकी मीडिया का कहना है कि इस चैट शो के दौरान आर्मस्ट्रांग ने शक्तिवर्धक दवाएँ लेने की बात स्वीकार की थी.

इसे भी पढ़ें

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.