इंग्लैंड का फॉलोऑन, भारत की स्थिति मज़बूत

  • 17 नवंबर 2012
फाइल चित्र

इंग्लैंड के ख़िलाफ़ अहमदाबाद टेस्ट के तीसरे दिन भारत के विशाल 521 रन के जवाब में इंग्लैंड की टीम 191 रन पर ऑलआउट हो गई. दिन का खेल खत्म होने पर इंग्लैंड की टीम दूसरी पारी में बिना विकेट गंवाए 110 रन पर खेल रही थी. यानी इंग्लैंड 219 रनों से पिछड़ रहा है.

इंग्लैंड को सबसे ज़्यादा नुकसान पहुँचाया प्रज्ञान ओझा ने जिन्होंने पाँच विकेट लिए.

इससे पहले पहली पारी में 330 रन से पिछड़ी इंग्लैंड टीम को भारत ने फॉलोऑन खेलने के लिए आमंत्रित किया.

दूसरे दिन के खेल में 41 रन पर तीन विकेट गंवाने का बाद शनिवार को भी इंग्लैंड के बल्लेबाज़ कोई कारनामा नहीं दिखा सके. इंग्लैंड की तरफ से कप्तान कुक (41) और विकेटकीपर प्रायर (48) सबसे ज़्यादा रन बनानेवाले खिलाड़ी रहे.

तीसरे दन कप्तान एलेस्टर कुक और केविन पीटरसन ने इंग्लैंड की पारी शुरुआत की. कुक ने इंग्लैंड की पारी को थोड़ा संभाला लेकिन 41 रन के निजी स्कोर पर आर अश्विन ने उनका विकेट लेकर इंग्लैंड को एक बड़ा झटका दिया.

पीटरसन भी 17 रन के स्कोर पर जल्दी ही पैविलियन लौट गए.

उसके बाद इंग्लैंड के बल्लेबाज़ थोड़ी-थोड़ी देर पर पैविलियन का रुख करते रहे. ट्रॉट और बेल तो बिना खाता खोले ही अपना विकेट गंवा बैठे.

भारतीय गेंदबाज़ी और क्षेत्ररक्षण के सामने इंग्लैंड का मध्यक्रम धराशायी हो गया.

बाद के खिलाड़ियों में केवल विकेटकीपर प्रायर (48) ही इंग्लैंड की पारी को थोड़ा संभाल सके. समित रोहित पटेल 10 और टी ब्रेसनन 19 रन बनाकर पैविलियन लौट गए जबकि ब्रॉड ने 25 और स्वान ने 17 रन बनाए.

भारत की गेंदबाज़ी

इंग्लैंड की बल्लेबाज़ी को नाकाम करने में भारतीय गेंदबाज़ी और क्षेत्ररक्षण का अहम योगदान रहा.

तेज़ गेंदबाज़ आर अश्विन ने इंग्लैंड के तीन खिलाड़ियों को आउट किया जबकि प्रज्ञान ओझा ने पांच खिलाड़ियों को पैविलियन का रास्ता दिखाया.

अश्विन ने कुक, ट्रॉट और कॉम्पटन के विकेट लिए जबकि प्रज्ञान ने एंडरसन, पीटरसन, बेल, ब्रेसनन और प्रायर को आउट किया.ज़हीर ख़ान और उमेश यादव ने एक-एक विकेट लिए.

भारत ने चेतेश्वर पुजारा के दोहरे शतक और वीरेंदर सहवाग के शतक की बदौलत आठ विकेट पर 521 रन बनाकर पारी समाप्त घोषित कर दी थी.

अपने टेस्ट करियर का पहला दोहरा शतक जड़ते हुए पुजारा ने 206 रन बनाए थे और नाबाद रहे.