अल क़ायदा: समयचक्र
 
 
 
 
 
 
 
 
 
तुर्की में हमले
 
 
 
 
 
 
 
 

तुर्की में हमले

वर्ष 2003 के जून महीने में रियाद हमलों का 'मुख्य साज़िशकर्ता' गिरफ़्तार. रियाद में कई हमलों की साज़िश रचने के आरोप में अली अब्दुल रहमान अल घमदी या अबू बकर अल अज़्दी को गिरफ़्तार किया गया. उनकी गिरफ़्तारी को सऊदी अरब में अल क़ायदा के लिए तगड़ा झटका माना गया. इसी साल दिसंबर में तुर्की के दो सेनेगॉग पर आत्मघाती हमला हुआ. इस्तांबुल में दो आत्मघाती हमले में कम से कम 23 लोग मारे गए और 300 से ज़्यादा घायल हुए. सरकार ने अल क़ायदा को इस हमले के लिए ज़िम्मेदार ठहराया. दिसंबर में ही तुर्की में दो ब्रितानी ठिकानों पर हमला हुआ. इस्तांबुल में ब्रितानी वाणिज्य दूतावास और एचएसबीसी बैंक के दफ़्तर पर हुए हमले में कम से कम 27 लोग मारे गए और 450 से ज़्यादा घायल हुए. अल क़ायदा से जुड़े दो संगठनों ने इसकी ज़िम्मेदारी ली.
 
^^ पन्ने पर ऊपर जाने के लिए क्लिक करें बीबीसी हिंदी