BBC navigation

ब्रिटेन: घर पर हो सकेगी एचआईवी जांच

 रविवार, 6 अप्रैल, 2014 को 14:14 IST तक के समाचार
एचआईवी परीक्षण

ब्रिटेन में लोग अब अपने घर पर एचआईवी परीक्षण कर सकेंगे.

पहली बार ब्रिटेन में क़ानून में बदलाव कर लोगों को घर पर एचआईवी की जांच ख़ुद करने की अनुमति दी गई है. जांच की किट बाज़ार से बग़ैर डॉक्टर की पर्ची के ख़रीदी जा सकती है हालांकि ब्रिटेन में अभी तक ऐसी कोई किट मौजूद नहीं हैं.

क्लिक करें क़ानून में परिवर्तन का मतलब है कि लोग अगर घर पर परीक्षण करें तो अब ये क़ानूनी होगा.

पहले लोग इंटरनेट पर ऑर्डर देकर घर पर टेस्ट किट बुलाते थे, सैंपल भेजने के बाद उन्हें टेस्ट के नतीजे फ़ोन पर बताए जाते थे.

उम्मीद की जा रही है कि इस क़दम से ब्रिटेन के 25,000 एचआईवी पॉजिटिव लोगों की मदद हो पाएगी, जिनकी अब तक जांच नहीं हो पाई है.

ब्रिटेन सरकार के स्वास्थ्य विभाग की प्रवक्ता ने कहा, "एचआईवी से जुड़े कलंक की वजह से लोग क्लिनिक में टेस्ट करवाने से कतराते हैं. हालांकि अभी यूरोपीय मानकों की कोई किट ब्रिटेन में उपलब्ध नहीं है लेकिन उम्मीद है कि हालात अगले साल तक बदलेंगे."

महत्वपूर्ण पड़ाव

"यह 'शर्मनाक' है कि यह क़ानून ऐसे वक़्त अमल में आया है जब कोई व्यावहारिक परीक्षण उपलब्ध नहीं है."

डॉक्टर माइकल ब्रैडी, टेरेंस हिगिंस ट्रस्ट में चिकित्सा निदेशक

एचआईवी के घर बैठे परीक्षण को पिछले साल सितंबर में ही सरकार ने मंज़ूरी दे दी थी, लेकिन यह क़ानून रविवार से ही प्रभाव में आया है.

जांच किट के उत्पाद में ब्रिटेन यूरोप में सबसे आगे है, लेकिन इसकी शुरुआत 2012 में अमरीका में हुई थी.

यह परीक्षण उंगली से ख़ून की एक छोटी सी बूंद निकाल कर और लार के नमूने से किया जा सकता है.

टेरेंस हिगिंस ट्रस्ट में चिकित्सा निदेशक डॉक्टर माइकल ब्रैडी ने कहा, यह 'शर्मनाक' है कि यह क़ानून ऐसे वक़्त अमल में आया है जब कोई व्यावहारिक परीक्षण उपलब्ध नहीं है.

915 उपयोगकर्ताओं पर किए गए एक अध्ययन में पाया गया कि 97% लोगों ने इसे दोबारा इस्तेमाल करने की बात कही है. एक सप्ताह में परीक्षण के लिए 3,000 ऑर्डर मिले हैं.

डॉक्टर ब्रैडी ने कहा कि घर बैठे परीक्षण के प्रति ऐसी राय ब्रिटेन में चैरिटी की एचआईवी संबंधी रोकथाम मुहिम में एक 'महत्वपूर्ण पड़ाव' बनने का संकेत है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप क्लिक करें यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें क्लिक करें फ़ेसबुक औरक्लिक करें ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

इसे भी पढ़ें

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.