BBC navigation

दुनिया में सबसे तेज़ सुपरकंप्यूटर चीन का

 बुधवार, 19 जून, 2013 को 19:51 IST तक के समाचार
तियान्हे-2 सुपरकंप्यूटर

तियान्हे-2 ने चीन को एक बार फिर सबसे तेज़ सुपर कंप्यूटर बनाने वाला देश बना दिया है.

शोधकर्ताओं के एक दल ने दुनिया के 500 सबसे तेज़ सुपरकंप्यूटरों की सूची जारी की है. इनमें चीन के तियान्हे-2 को दुनिया का सबसे तेज़ सुपरकंप्यूटर बताया गया है.

इस मौक़े पर शोधकर्ताओं ने भी हैरानी जताई क्योंकि इस नए कंप्यूटर के 2015 तक तैयार होने की उम्मीद नहीं थी.

इससे पहले नवंबर 2010 से जून 2011 के बीच भी चीन को दुनिया का सबसे तेज़ सुपरकंप्यूटर बनाने का गौरव हासिल हुआ था.

नई सूची में दूसरे और तीसरे नंबर पर क्लिक करें अमरीका का 'टाइटन' और 'सिक्वोया' रहे जबकि जापान का 'के कंप्यूटर' दुनिया का चौथा सबसे तेज़ सुपरकंप्यूटर है.

यह सूची साल में दो बार जारी की जाती है. ताज़ा सूची मैनहाइम यूनीवर्सिटी में कंप्यूटर साइंस के प्रोफ़ेसर हैंस मियुर की देखरेख में तैयार की गई है.

सुपर क्लिक करें कंप्यूटर की गति मापने वाली संस्था लिनपैक बेंचमार्क के अनुसार तियान्हे-2 सुपर कंप्यूटर 33.86 पेटाफ़्लॉप प्रति सेकंड की गति से चलता है.

सेक्वोया कंप्युटर

अमरीका का सेक्वोया सुपरकंप्यूटर तीसरे नंबर पर है.

इसका मतलब है कि ये सुपर कंप्यूटर एक सेकंड में 33 हज़ार 860 ट्रिलियन कैलकुलेशन करता है.

चीनी सरकार के अनुसार इसे दक्षिण पूर्वी प्रांत ग्युआनडॉंग के ग्युआंगज़ो शहर में मौजूद नेशनल सुपर कंप्यूटर सेंटर में स्थापित किया जाएगा. जहां दक्षिणी चीन के लोग शोध और तकनीकी पढ़ाई के लिए इसका इस्तेमाल कर सकेंगे.

तियान्हे-2 की ख़ासियत

ये सुपरकंप्यूटर 31 लाख 20 हज़ार प्रोसेसर कोर का इस्तेमाल करता है और इसके कैलकुलेशन के लिए इंटेल के आइवी ब्रिज और ज़िऑन फ़ाइ चिप्स का इस्तेमाल किया गया है.

जापान का के कंप्युटर

जापान का के कंप्यूटर पहले नंबर से लुढ़ककर चौथे नंबर पर आ गया है.

लेकिन 500 सबसे तेज़ सुपर कंप्यूटर की सूची जारी करने वाले दल में शामिल अमरीका की यूनिवर्सिटी ऑफ़ टेनेस के जैक डोंगारा के अनुसार इस नए सुपरकंप्यूटर की कई चीज़ें चीन में बनाई गई हैं और उनकी ख़ास विशेषताएं हैं.

तियान्हे-2 की क्षमता इस सूची में शामिल दूसरे सबसे तेज़ क्लिक करें सुपर कंप्यूटर टाइटन से दोगुना है.

लिनपैक बेंचमार्क के अनुसार टाइटन सुपर कंप्यूटर 17.59 पेटाफ़्लॉप प्रति सेकंड की गति से काम करता है.

जैक डोंगारा के अनुसार अमरीका 2015 तक अब कोई दूसरा सुपर कंप्यूटर नहीं बनाएगा.

चौथे नंबर पर शामिल जापान का के कंप्यूटर 10.51 पेटाफ़्लॉप प्रति सेकंड की रफ़्तार से काम करता है.

जानकारों के अनुसार 500 सबसे तेज़ सुपर कंप्यूटरों की ताज़ा सूची में चीन के 66, अमरीका के 252, जापान के 30, ब्रिटेन के 29, फ़्रांस के 23 और जर्मनी के 19 सुपर कंप्यूटर शामिल हैं.

(बीबीसी हिंदी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक करें क्लिक कर सकतें हैं. आप हमें क्लिक करें फ़ेसबुक और क्लिक करें ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

इसे भी पढ़ें

टॉपिक

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.