BBC navigation

गूगल का नया मैप ऐप, क्या हैं इसकी खूबियां!

 गुरुवार, 13 दिसंबर, 2012 को 17:33 IST तक के समाचार
गूगल एप

फिनलैंड की कंपनी नोकिया ने भी हाल ही में आईफोन के लिए अपना एक मुफ्त मैप ऐप शुरू किया है.

गूगल ने आईफोन के लिए अपना नया मैप ऐप जारी किया है.

पहले ऐपल के स्मार्टफोन आईफोन में गूगल का मैप ऐप ही होता था, लेकिन बाद ऐपल ने अपना खुद का मैप सॉफ्टवेयर इस्तेमाल करना शुरू कर दिया.

हालांकि ऐपल के ऐप में कई तरह की गलतियों की शिकायतें मिलीं और उसकी खासी आलोचना हुई.

आईफोन के लिए उतारे गए गूगल के नए ऐप में कुछ ऐसे फंक्शन भी पेश किए गए हैं जो पहले सिर्फ एंड्रॉइड उपकरणों तक ही सीमित थे.

नोकिया से चुनौती

एक विश्लेषक बेन वुड के अनुसार गूगल का ये ऐप लोकप्रिय होगा, लेकिन उनके अनुसार नोकिया अब भी उसके लिए कड़ी चुनौती बना हुआ है.

"नक्शों में होने वाले बदलाव के बारे में हम तक सूचना पहुंचाने के लिए हम जितना ज्यादा अवसर आपको देंगे, उतने ही ज्यादा अन्य लोग उस सूचना से लाभ उठा पाएंगे."

ऐपल के प्रोजेक्ट मैनेजर काई हांसेन

फिनलैंड की कंपनी नोकिया ने भी हाल ही में आईफोन के लिए अपना एक मुफ्त मैप ऐप शुरू किया है.

ऐसी सुविधाएं जो गूगल के आईफोन ऐप में नहीं हैं और इसके एंड्रॉइड वर्जन में मौजूद हैं, उनमें इंडोर मैप्स, ऑफलाइन व्यूविंग के लिए मैप डाउनलोड करने की क्षमता और वॉइस सर्च शामिल हैं.

एक क्षेत्र जहां ऐपल का सॉफ्टवेयर अब भी गूगल के मैप ऐप पर भारी पड़ता है वो है उनमें फ्लाइओवर का शामिल होना जिसके जरिए मैप ऐप में शामिल 3डी ग्राफिक्स के जरिए कुछ शहरों का इंटरएक्टिव फोटो रियलस्टिक व्यू मिलता है.

गूगल अपने गूगल अर्थ सॉफ्टवेयर के जरिए ऐसी सुविधा देता है जिसे इसके मुख्य मैप ऐप में खासी तवज्जो दी गई है लेकिन इसके लिए एक अन्य प्रोग्राम की जरूरत पड़ती है.

लेकिन बहुत से लोगों के लिए सटीकता का स्तर सबसे अहम फीचर होगा जो उन्हें गूगल से बखूबी मिलती रही है.

फीडबैंक की अहमियत

आईफोन यूजर्स को इस बात के लिए प्रोत्साहित किया जाता है कि वो फीडबैक के तौर पर जानकारी मुहैया कराएं.

ऐपल के प्रोजेक्ट मैनेजर काई हांसेन कहते हैं, “गूगल मैप अन्य मैप ऐप्लिकेशंस की तरह उस जानकारी पर आधारित निर्देश देता है जो हमें प्राप्त होती है.”

वो बताते हैं, “अगर कोई सड़क छह महीनों के लिए बंद है या कोई सड़क दो दिन पहले ही खुली है तो ये बातें सिर्फ उसी व्यक्ति को पता होंगी जो उस इलाके में रहता है. अगर आप वहां बहुत दिनों से नहीं गए हैं तो इन बातों के बारे में आपको जानकारी नहीं हो सकती है.”

उनके अनुसार, “नक्शों में होने वाले बदलाव के बारे में हम तक सूचना पहुंचाने के लिए हम जितना ज्यादा अवसर आपको देंगे, उतने ही ज्यादा अन्य लोग उस सूचना से लाभ उठा पाएंगे.”

इसे भी पढ़ें

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.