जल्दी जन्म, अधिक बीमारी

 शुक्रवार, 2 मार्च, 2012 को 17:06 IST तक के समाचार
बच्चों

ब्रिटिश मैडिकल जर्नल में प्रकाशित किए गए इस अध्ययन में पाँच साल से कम आयु के 14,000 बच्चों को लिया गया है.

एक शोध में सामने आया है कि समय से कुछ सप्ताह पहले पैदा होने वाले बच्चों को बाकियों की तुलना में अधिक स्वास्थ्य संबंधी मुश्किले आती हैं.

डॉक्टरों का कहना है कि इससे उस धारणा को चुनौती मिलती है कि 37 सप्ताह के बाद पैदा होने वाले सभी बच्चों की जिदगी बाकी बच्चो की तरह ही होती है.

ब्रिटिश मैडिकल जर्नल में प्रकाशित किए गए इस अध्ययन में पाँच साल से कम आयु के 14,000 बच्चों को लिया गया है.

इस अध्ययन में इन बच्चों के स्वास्थ्य संबंधी विवरणों को देखा गया जैसे कि कब और कितनी बार वह अस्पताल में भर्ती हुए और क्या उन्हें अस्थमा जैसी बीमारियाँ हुई.

इससे पहले के अध्ययनों में 32 सप्ताह से पूर्व जन्में बच्चों पर केंद्रित किया गया था.

ध्यान देना जरूरी

लेकिन इस अध्ययन में सामने आया है कि इसके बाद जन्में बच्चों पर भी ध्यान देना आवश्यक है.

इसमें पाया गया कि 39 सप्ताह से पहले पैदा हुए बच्चों को पाँच साल तक की उम्र तक अधिक बीमारियों का सामना करना पड़ता है. जितनी जल्दी बच्चे का जन्म होता है उतनी ही अधिक समस्या.

उदाहरण के तौर पर समय पर जन्मे 15 प्रतिशत बच्चों को अस्थमा जैसी बीमारी होती है लेकिन कुछ ही सप्ताह पहले पैदा हुए बच्चों में यह आँकड़ा 17 प्रतिशत पहुँच जाता है.

उनके अस्पताल जाने की संभावना भी जरा अधिक होती है.

ब्रिटेन में हर पाँच में से एक बच्चा--यानि एक लाख हर साल--37 या 38 सप्ताह में पैदा होता है.

इस अध्ययन के लेखक इस बात पर जोर दे रहे थे कि अभिभावकों को इस तरह की बीमारी की साधारण संभावना के बारे में चिंतित नहीं होना चाहिए.

इससे जुड़ी और सामग्रियाँ

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.