अब सूर्य के लिए नासा की दूरबीन

सूर्य

सूर्य के बारे में इससे पहले इतना विस्तृत अध्ययन नहीं किया गया था

अमरीकी अंतरिक्ष केंद्र नासा सूर्य के अध्ययन के लिए अंतरिक्ष में एक दूरबीन स्थापित करने जा रहा है.

यह दूरबीन वैज्ञानिकों को हाई रिज़ोल्यूशन तस्वीरें भेजेगा जिसके सहारे वे यह अध्ययन कर सकेंगे कि सूर्य की गतिविधियाँ किस तरह की हैं.

इसमें उन चुंबकीय शक्तियों का अध्ययन किया जाएगा जिससे सूर्य में धब्बे दिखाई देते हैं और सूर्य धधकता है, जिसकी वजह से संचार व्यवस्था, सैटेलाइट और विद्युत उपकरण काम करना बंद कर सकते हैं.

'सोलर डायनामिक ऑब्ज़र्वेटरी' का मिशन पाँच साल का होगा और यह हर 24 घंटे में पृथ्वी की परिक्रमा करेगा.

बदलता सितारा

सूर्य

सूर्य की शक्तिशाली चुंबकीय शक्ति की वजह से बहुत से परिवर्तन होते हैं

सूर्य एक ऐसा सितारा है जो हमेशा बदलता रहता है.

कभी वह शांत रहता है तो कभी एकाएक धधकने लगता है और ऐसे लाखों निवेशित कण विसर्जित करता है जिससे कि पृथ्वी कर विद्युत और संचार तंत्र काम करना बंद कर सकते हैं.

सूर्य की इन गतिविधियों के पीछ उसका शक्तिशाली चुंबकीय क्षेत्र है जिसमें बहुत अधिक ऊर्जा समाई होती है और जब वे इसे छोड़ते हैं तो तेज़ किरणें पैदा होती हैं.

यह दूरबीन सेकेंड के हर तीसरे हिस्से में पूरे सूर्य की हाई डेफ़िनिशन तस्वीरें खींचेगा.

इस दूरबीन की तस्वीरें किसी हाई डैफ़िनिशन टीवी कैमरे की तस्वीर की तुलना में दस गुना बेहतर होंगीं.

इससे वैज्ञानिक सूर्य के बारे में वो जानकारी हासिल कर सकेंगे, जो अब तक उपलब्ध नहीं है.

BBC navigation

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.