इमरान ख़ान चले नरेंद्र मोदी की राह

 गुरुवार, 6 सितंबर, 2012 को 19:25 IST तक के समाचार
इमरान खान

पाकिस्तान के युवा मतदाताओं को लुभाने में जुटे हैं इमरान खान.

गुजरात के मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी के बाद अब पाकिस्तान के पूर्व क्रिकेटर और राजनेता इमरान ख़ान भी गूगल प्लस पर हैंगआउट करेंगे यानी लोगों से ऑनलाइन बातचीत करेंगे.

इमरान ख़ान ने बुधवार को अपने ट्विटर पर ये जानकारी देते हुए बताया है कि उनका हैंगआउट सेशन छह सितंबर यानी आज रात 9 बजे शुरू होगा और वो इस दौरान युवा लोगों से बात करना चाहेंगे.

गूगल हैंगआउट गूगल की सोशल मीडिया साइट गूगल प्लस की अवधारणा है जिसमें कई लोग एक साथ वीडियो पर बातचीत कर सकते हैं.

ये चाय की दुकान पर कई लोगों की बातचीत जैसा होता है लेकिन फर्क सिर्फ इतना है कि ये वर्चुअल यानी ऑनलाइन माध्यम ही हो सकता है.

लोकप्रिय होता हैंगआउट

युवाओं में गूगल हैंगआउट खासा लोकप्रिय होता जा रहा है क्योंकि इसमें एक ही परिवार के कई लोग या कई दोस्त एक साथ एक दूसरे को देख सकते हैं और गप्प लड़ा सकते हैं.

हाल के दिनों में मीडिया संस्थानों ने गूगल हैंग आउट का काफी उपयोग किया है जिससे वो टीवी पर लाइव बहस करवाते रहे हैं.

मोदी के समर्थकों का दावा है कि मोदी के गूगल हैंगआउट के दौरान इतने लोग आ गए थे कि गूगल की साइट ही ठप हो गई थी.

वैसे इस दावे की सच्चाई की पुष्टि नही हो पाई है लेकिन ये बात ज़रूर है कि मोदी का हैंगआउट काफी सफल रहा था.

चुनाव की तैयारी

पाकिस्तान में अगले साल आम चुनाव होने हैं और इसीलिए इमरान ख़ान जनता तक अपनी बात पहुंचाने के लिए नए नए तरीके आजमा रहे हैं.

एक लाख लोगों के साथ मार्च को इमरान बड़ी चुनौती मानते हैं.

युवाओं के बीच खासे लोकप्रिय इमरान अगले महीने राजधानी इस्लामाबाद से कबायली इलाके दक्षिणी वजीरिस्तान तक एक लाख लोगों के साथ मार्च निकालने की तैयारी भी कर रहे हैं.

इमरान ने इसे 'अमन मार्च' का नाम दिया है जिसका मकसद कबायली इलाकों में होने वाले अमरीकी ड्रोन हमलों का विरोध करना है. उनके मुताबिक इस मार्च में अमरीकी नागरिक, मानवाधिकार संगठन और अंतरराष्ट्रीय पत्रकार भी शामिल होंगे.

पाकिस्तान के कबायली इलाके में चरमपंथियों का खासा प्रभाव है और वहां आए दिन सुरक्षा चौकियों पर हमले होते रहते हैं. वहां से अमरीकी ड्रोन हमलों की खबरें भी अकसर आती हैं जिनमें संदिग्ध चरमपंथियों के साथ साथ कई बार आम लोग भी निशाना बनते हैं.

इससे जुड़ी और सामग्रियाँ

इसी विषय पर और पढ़ें

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.