पाक रक्षा बजट में 10 प्रतिशत की बढ़ोतरी

पाकिस्तानी सेना

संसद की रक्षा समीति ने सरकार को प्रस्ताव दिया था कि रक्षा बजट पांच सौ अरब रुपय पर बढ़ाया जाए

पाकिस्तान सरकार ने वर्ष 2011-12 के लिए बजट पेश कर दिया है जिसमें रक्षा बजट में दस प्रतिशत की बढ़ोतरी कर 495 अरब रुपए दिए हैं.

इससे पहले अप्रैल में संसद की रक्षा समीति ने सरकार को प्रस्ताव दिया था कि रक्षा बजट को 500 अरब रुपए तक बढ़ाया जाए.

संसद में पेश किए गए बजट दस्तावेज़ों के अनुसार सेना के ख़र्चों के लिए 495 अरब 21 करोड़ 50 लाख रुपय रखे गए हैं जो पिछले साल से दस प्रतिशत ज़्यादा है.

इसी साल सेना के लिए 442 अरब 17 करोड़ 30 लाख रुपय रखे गए थे लेकिन बाद में करीब ढाई अरब रुपय ज़्यादा ख़र्च हो गए थे.

ग़ौरतलब है कि इसी साल केंद्र सरकार का कुल बजट 27 खरब 67 अरब रुपय का है जिसमें आठ खरब 50 अरब रुपय का घाटा बताया गया है.

वित्त मंत्री हफ़ीज़ शेख़ ने संसद में वर्ष 2011-12 का बजट किया लेकिन उन्होंने रक्षा बजट की विस्तार से जानकारी नहीं दी.

कोई चर्चा नहीं

पाकिस्तान सेना

रक्षा बजट पर न तो संसद के भीतर या बाहर कोई चर्चा होती है और न ही सरकार और सेना इसकी विस्तृत जानकारी देते हैं.

पाकिस्तान में रक्षा बजट पर न तो संसद के भीतर या बाहर कोई चर्चा होती है और न ही सरकार और सेना इसकी विस्तृत जानकारी देते हैं.

बजट दस्तावेज़ों के मुताबिक इस साल सेना पर 495 अरब रुपए ख़र्च किए जाएंगे लेकिन असल में बजट का करीब 60 प्रतिशत हिस्सा सेना पर ख़र्च हो जाता है.

वर्ष 2008 में जब पीपुल्स पार्टी ने गठबंधन सरकार का नेतृत्व संभाला था तो उस समय घोषणा की गई थी कि वह रक्षा बजट की विस्तृत जानकारी संसद में पेश करेगी.

ये पीपुल्स पार्टी सरकार का चौथा बजट है और आज तक रक्षा बजट की कोई जानकारी नहीं दी गई है.

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.