BBC navigation

इटली की पत्रिका में छपेंगी केट की टॉपलेस तस्वीरें

 शनिवार, 15 सितंबर, 2012 को 12:07 IST तक के समाचार

फ्रांसीसी पत्रिका में केट की टॉपलेस तस्वीरें छापने पर ड्यूक और डचेज़ ऑफ़ कैम्ब्रिज ने पत्रिका के खिलाफ़ कानूनी करने का फैसला करते हुए कानूनी दावा ठोका है.

ब्रिटेन में शाही परिवार के प्रवक्ता ने कहा है कि ये शाही जोड़े की निजता का उल्लंघन है जिसके लिए पत्रिका को जवाब देना होगा.

एक फ्रांसीसी पत्रिका क्लोज़र ने गुरुवार को ब्रिटेन की महारानी की बहू डचेज ऑफ कैंब्रिज केट की टॉपलेस तस्वीरें प्रकाशित की थीं.

क्लोजर ने ये तस्वीरें उस वक्त लीं जब ड्यूक और डचेज पिछले हफ्ते रानी के भतीजे लॉर्ड लिनले के फ्रांसीसी महल में छुट्टियां मना रहे थे.

बीबीसी के पेरिस ब्यूरो का कहना है कि तस्वीरें हालांकि धुँधली कर दी गई हैं लेकिन बड़े लेंस से ली गईं इन तस्वीरों से साफ पता चलता है कि वे शाही दंपती की हैं, जो इन दिनों एशिया की यात्रा पर हैं.

'अर्धनग्न तस्वीरें'

प्रिंस ऑफ़ वेल्स के कार्यालय क्लेयरेंस हाउस के एक प्रवक्ता ने कहा, "ड्यूक और डचेज ऑफ़ यह जानकर काफ़ी दुखी हैं कि एक फ्रांसीसी प्रकाशन और एक फोटोग्राफर ने उनकी निजता का उल्लंघन किया. जो काफ़ी अनुचित है."

विलियम और केट की तस्वीरें चार पन्नों में हैं और इनमें से कई तस्वीरों में डचेज टॉपलेस यानी अर्धनग्न हैं.

मलेशिया की राजधानी कुआलालंपुर में नाश्ते के दौरान उन्हें तस्वीरें छापने संबंधी पत्रिका की योजना के बारे में बताया गया था.

ये भी कहा जा रहा है कि ये तस्वीरें कुछ ब्रितानी अखबारों को भी देने की पेशकश की गई थीं लेकिन उन्होंने इसे लेने से इंकार कर दिया.

अधिकारियों का कहना है कि अपनी निजता का उल्लंघन होने के बारे में जानने पर शाही दंपती बहुत दुखी और निराश हुआ.

दौरा जारी

हालांकि इसके बावजूद शाही दंपती का नौ-दिवसीय दौरा जारी है.

गुरुवार को डचेज ने कुआलालंपुर में एक आश्रम का दौरा किया था और देश के बाहर पहली बार कोई आधिकारिक भाषण दिया था.

उनका कहना था कि शाही दंपती सिंगापुर में अपनी यात्रा पूरी करने के बाद मलेशिया जाने के लिए काफी उत्साहित था.

डचेज की अर्धनग्न तस्वीरें ऐसे समय में आई हैं जबकि कुछ ही दिनों पहले केट के देवर प्रिंस हैरी की नग्न तस्वीरों के प्रकाशन को लेकर काफी विवाद हुआ था.

प्रिंस हैरी की वे तस्वीरें पिछले महीने लास वेगास में खींची गई थीं. ये तस्वीरें सबसे पहले एक अमरीकी वेबसाइट पर छपी थीं जो कि मनोरंजन और गप-शप की खबरें प्रकाशित करती है.

सन अकेला ब्रितानी अखबार था जिसने शाही महल की इन तस्वीरों को न छापने की चेतावनी के बावजूद इन्हें प्रकाशित किया था.

इससे जुड़ी और सामग्रियाँ

इसी विषय पर और पढ़ें

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.