रोमनी का एक करोड़ से अधिक नौकरियों का वादा

 शुक्रवार, 31 अगस्त, 2012 को 19:36 IST तक के समाचार

ओबामा पर हमला करते हुए रोमनी ने कई वादे किए

मिट रोमनी ने फ़्लोरिडा में रिपब्लिकन पार्टी के सम्मेलन में रिपब्लिकन उम्मीदवार का नामांकन स्वीकार करते हुए ‘अमरीका के वादों को पूरा करने’ का वचन दिया है.

रोमनी ने राष्ट्रपति ओबामा पर अपने वादों को पूरा न करने का आरोप लगाया है और ऊर्जा स्वतंत्रता, बजटीय घाटे को कम करने और नौकरियाँ पैदा करने का अपनी योजना प्रस्तुत की है.

ओबामा के चुनाव प्रचार में इस बात पर जोर दिया गया है कि रोमनी के कोई स्पष्ट विचार नही हैं और वह ‘ देश को पीछे की तरफ ले जाएंगे.’

रोमनी नवंबर के चुनाव में बराक ओबामा को चुनौती देंगे. 2008 में भी उन्होंने राष्ट्रपति पद के लिए रिपब्लिकन पार्टी का उम्मीदवार बनने की कोशिश की थी लेकिन तब पार्टी ने अरीज़ोना के सिनेटर जॉन मेककेन को अपना उम्मीदवार बनाया था.

अपने भाषण में जिसे पूरे अमरीका में लाखों लोगों ने देखा, रोमनी ने कहा, ‘मेरी कामना थी कि राष्ट्रपति ओबामा सफल होते क्योंकि मैं चाहता हूँ कि अमरीका सफल हो.’

'इसराइल को नज़रअंदाज किया'

राष्ट्रपति ओबामा पर हमले बोलते हुए उन्होंने कहा, "हमारे पास पिछले चार सालों की असफलताओं, भेदभावों और प्रत्यारोपों को भुला देने का समय आ गया है."

उन्होंने 8.3 फीसदी बेरोज़गार दर से जूझ रही अर्थव्यवस्था में अगले चार सालों में 1 करोड़ 20 लाख नई नौकरियाँ पैदा करने का वादा किया.

उन्होंने ओबामा पर आरोप लगाया कि उन्होंने इसराइल जैसे दोस्तों की अवहेलना कर ईरान जैसे देशों के प्रति काफी नर्मी बरती है. उन्होंने कहा, " अपने प्रशासन के दौरान हम अपने दोस्तों के प्रति ज्यादा वफ़ादारी और श्री पुतिन के प्रति कम लचीलापन दिखाएंगे."

उन्होंने यह कह कर भीड़ को अपने पैरों खड़ा कर दिया कि वह ओबामा के स्वास्थ्य संरक्षण बिल को निरस्त कर देंगे.

इस समारोह के अंत में पूरा रोमनी परिवार- उनकी पत्नी, पाँच पुत्र और उनकी पत्नियां और 18 नाती पोतों में से अधिकतर मंच पर पहुँच गए.

जीत के प्रति आश्वस्त

सम्मेलन में मौजूद रिपब्लिकंस का कहना था कि इस भाषण के बाद वह अपनी जीत के प्रति आश्वस्त हैं. एक प्रतिनिधि ने बीबीसी को बताया, "यह फिटी हुई क्रीम और आइसक्रीम पर चेरी लगाने के समान है और नवंबर में हमें जीतने से कोई नहीं रोक सकता."

लेकिन ओबामा के प्रचार प्रबंधक जिम मेसीना का कहना था कि रोमनी के भाषण में कोई सार नहीं था.

उन्होंने कहा, "पूरे रिपब्लिकन सम्मेलन की तरह रोमनी के भाषण में भी कई व्यक्तिगत आक्षेप किए गए और देश को आगे बढ़ाने का कोई वास्तविक सुझाव नहीं पेश किया गया."

इससे जुड़ी और सामग्रियाँ

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.