BBC navigation

विकिलीक्स के असांज को दक्षिण अमरीकी देशों का समर्थन

 सोमवार, 20 अगस्त, 2012 को 06:47 IST तक के समाचार
असांज

असांज ने इक्वाडोर के दूतावास की खिड़की पर आकर लोगों को संबोधित किया.

दक्षिण अमरीकी देशों के विदेश मंत्री विकीलीक्स के संस्थापक जूलियन असांज को इक्वाडोर द्वारा राजनयिक शरण देने के फैसले के समर्थन के लिए एक दस्तावेज़ पर सहमत हो गए हैं.

ये सहमति ऐसे समय बनी है जब इक्वाडोर और ब्रिटेन के बीच असांज को यौन शोषण के आरोपों में स्वीडन के हवाले करने पर जबर्दस्त गतिरोध बना हुआ है.

"यदि ब्रिटेन, विएना समझौते और अन्य अधिकारों का सम्मान नहीं करता है तो सारी दुनिया ये देख रही है, सारी दुनिया देख रही है क्योंकि आप देख रहे हैं."

जूलियन असांज

दक्षिण अमरीकी देशों के संगठन के सम्मेलन में इक्वाडोर के विदेश मंत्री ने जब अपनी बात रखी तो उन्हें दक्षिण अमरीका के अन्य देशों के विदेश मंत्रियों का भरपूर सहयोग मिला और उन्होंने असांज को राजनयिक शरण देने पर एक स्वर में सहमति जताई.

दक्षिणी अमरीका के लिए ये प्रतीकात्मक एकजुटता बड़ी महत्वपूर्ण है जो मानती है कि जूलियन असांज के प्रति ब्रिटेन की सरकार का नज़रिया औपनिवेशिक और चेतावनी भरा है.

ब्रिटेन के लिए स्पष्ट संदेश

सम्मेलन में जिस अंतिम दस्तावेज़ पर सहमति बनीं, उसमें कई सामान्य सिद्धांतों जैसे स्थानीय राजनयिक मिशनों और दूतावासों की अहमियत शामिल है.

इसमें ब्रिटेन के लिए कहीं ज्यादा स्पष्ट संदेश छिपा हुआ है क्योंकि दक्षिण अमरीकी देशों ने राजनयिक मिशनों पर खतरे की स्थिति में इक्वाडोर सरकार का समर्थन किया और एकजुटता दिखाई है.

सम्मेलन में हुए समझौते में शांति का आह्वान किया गया है और असांज मामले में शामिल सभी पक्षों से बातचीत जारी रखते हुए ऐसा समाधान तलाशने के लिए कहा है जो सभी पक्षों को मंज़ूर हो.

लेकिन ब्रिटिश अधिकारी कह रहे हैं कि असांज जैसे ही लंदन स्थित इक्वाडोर के दूतावास से बाहर निकलेंगे, वे उन्हें गिरफ्तार कर लेंगे. ऐसे में सभी पक्षों को मंजूर समाधान तलाशना आसान नहीं होगा.

असांज का जोशीला भाषण

विकीलीक्स के संस्थापक जूलियन असांज़ पिछले दो महीनों से लंदन स्थित इक्वाडोर के दूतावास में रह रहे हैं. रविवार को वो दूतावास की खिड़की पर आए और जोशीला भाषण दिया.

उन्होंने कहा, ''इक्वाडोर के इस दूतावास के भीतर से ही मैं पुलिस की आहट सुन रहा था. लेकिन मैं जानता हूं कि आप लोग इस सब के गवाह थे. यदि ब्रिटेन, विएना समझौते और अन्य अधिकारों का सम्मान नहीं करता है तो सारी दुनिया ये देख रही है, सारी दुनिया देख रही है क्योंकि आप देख रहे हैं.''

इक्वाडोर दूतावास के बाहर सुरक्षा का कड़ा बंदोबस्त.

असांज ने अमरीका को भी आड़े हाथों लिया और कहा कि अमरीका विकीलीक्स का पीछा करना बंद करे और उन मूल्यों पर वापस जाए जिन मूल्यों के साथ अमरीका की एक देश के रूप में नींव रखी गई थी, या फिर वो एक ऐसी खाई में गिर पड़े और जहाँ पत्रकार भय के कारण चुप हो जाते हों और जहाँ आम लोग अंधेरे में धकेल दिए जाते हों.

लंदन में इक्वाडोर के दूतावास के बाहर असांज को सुनने के लिए उनके समर्थकों का हुजूम था.

इनमें से एक अमारु क्रूज़ ने कहा, ''मैं यहां असांज और इक्वाडोर के लोगों का समर्थन करने आया हूं. आप देख सकते हैं कि यहां पुलिस का कितना भारी इंतज़ाम है और एक लातिन अमरीकी होने के नाते मैं उस खतरे को महसूस करता हूं जो ब्रिटेन की सरकार ने इक्वाडोर दूतावास के सामने खड़ा किया है.''

विकीलीक्स के लिए काम करने वाली दो महिलाओं ने वर्ष 2010 में असांज पर बलात्कार और यौन शोषण के आरोप लगाए थे. इन्हीं आरोपों के सिलसिले में स्वीडिश अभियोजक उनसे पूछताछ करना चाहते हैं. लेकिन असांज इस आरोप को ख़ारिज करते हैं.

इससे जुड़ी और सामग्रियाँ

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.