अमरीकी एथलीटों की 'मेड इन चाइना' पोशाक पर बवाल

 शुक्रवार, 13 जुलाई, 2012 को 01:27 IST तक के समाचार
ओलंपिक

एक सांसद का कहना था कि अमरीकी कपड़ा उद्योग में छह लाख नौकरियाँ खाली पड़ी है और ओलंपिक समिति चीन से वर्दी बनवा रही है

लंदन ओलंपिक के लिए अमरीकी एथलीटों की अमरीका में डिजाइन की गई लेकिन चीन में बनी पोशाक से अमरीकी राजनीति में छोटा सा भूचाल आ गया है.

वित्तीय मंदी, बेरोजगारी और धीमी आर्थिक विकास दर को झेल रहे अमरीकी समाज में इस खबर पर रिपब्लिकन और डेमोक्रेट नेता एकजुट नजर आ रहे हैं और दोनों ने अमरीकी ओलंपिक समिति को जमकर लताड़ा है.

जाने-माने अमरीकी लेबल रैल्फ लौरेन की ओर से डिजाइन की गई अमरीकी पोशाक की कीमत पुरुषों के लिए 1945 डॉलर है और महिलाओं के लिए 1473 डॉलर है.

डेमोक्रैट स्टीव इसराइल:

"इस देश में उत्पादन क्षेत्र में छह लाख जगहें खाली पड़ी हैं और ओलंपिक समिति वर्दी बनाने का काम चीन को आउटसोर्स कर रही है....ये केवल चौंकाने वाली बात नहीं बल्कि पूरी तरह से मूर्खता है. ये अपने पैरों पर खुद कुलहाड़ी मारने के समान है"

नेवी ब्लू ब्लेजर, सफेद पतलून और स्कर्ट, लाल टाई वाली ये पोशाक देखने में बिलकुल अमरीकी स्टाइल की हैं लेकिन इनके अंदल का लेबल कहता है - 'मेड इन चाइना.'

आर्थिक तंगी के दौर में यही लेबल राजनीतिक नेताओं को रास नहीं आ रहा.

'वद्रियों को इकट्ठा करके जला दो'

आर्थिक मंदी और बेरोजगारी से जूझ रहे नेवाडा प्रांत से डेमोक्रेटिक पार्टी के सीनेटर हैरी रीड का कहना था, "मैं बहुत दुखी हूँ. (अमरीकी) ओलंपिक समिति को शर्म आनी चाहिए. मेरे विचार में उन्हें इन सभी पोशाकों को एकत्र कर जला देना चाहिए और दोबारा से ये काम शुरु करना चाहिए."

अमरीकी अखबार लॉस एजिलिस टाइम्स ने उनके हवाले से कहा, "मैं उम्मीद करता हूँ कि वे एक बनैन के अलावा कुछ न पहनें जिसपर हाथ से यूएसए पेंट किया हो. अमरीकी टेक्सटाइल (कपड़ा) उद्योग में लोग काम न पाने से हताश हैं."

डेमोक्रैट हैरी रीड:

"मैं बहुत दुखी हूँ. (अमरीकी) ओलंपिक समिति को शर्म आनी चाहिए. मेरे विचार में उन्हें इन सभी पोशाकों को एकत्र कर जला देना चाहिए और दोबारा से ये काम शुरु करना चाहिए...मैं उम्मीद करता हूँ कि वे एक बनैन के अलावा कुछ न पहनें जिसपर हाथ से यूएसए पेंट किया हो. अमरीकी टेक्सटाइल (कपड़ा) उद्योग में लोग काम न पाने से हताश हैं"

अमरीकी संसद की प्रतिनिधि सभा की नेता नैंसी पेलोसी ने कहा, "ये (एथलीट) इतनी मेहनत करते हैं, हमें इन पर गर्व है. वे अपने क्षेत्र के सबसे काबिल लोग हैं...और उन्हें अमरीका में बनी हुई पोशाक ही पहननी चाहिए."

प्रतिनिधि सभा में डेमोक्रेटिक पार्टी के सदस्य स्टीव इसराइल का कहना था, "इस देश में उत्पादन क्षेत्र में छह लाख जगहें खाली पड़ी हैं और ओलंपिक समिति वर्दी बनाने का काम चीन को आउटसोर्स कर रही है....ये केवल चौंकाने वाली बात नहीं बल्कि पूरी तरह से मूर्खता है. ये अपने पैरों पर खुद कुलहाड़ी मारने के समान है."

उधर अमरीकी ओलंपिक समिति ने अपने बयान में कहा है कि अमरीकी टीम को निजी पैसे से फंड और स्पॉंसर किया जाता है और ओलंपिक समिति एक प्रमुख अमरीकी कंपनी रैल्फ लौरेन के साथ अपनी भागीदारी पर गर्व करती है.

इससे जुड़ी और सामग्रियाँ

इसी विषय पर और पढ़ें

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.