फेसबुक ईमेल से नाराज़ हुए यूज़र

 बुधवार, 27 जून, 2012 को 03:24 IST तक के समाचार

फेसबुक के ईमेल पते से परेशान यूज़र

ईमेल पते में बदलाव करने के बाद सोशल नेटवर्किंग साइट फेसबुक को कई यूजर्स की आलोचना का सामना करना पड़ रहा है.

दरअसल फेसबुक का इस्तेमाल करनेवाले सदस्य अपने कॉन्टैक्ट में अपना ईमेल पता लिखते हैं लेकिन फेसबुक ने अब सदस्यों के अलग-अलग ईमेल पते की जगह @फेसबुक.कॉम के नाम से एक अलग ईमेल पता देना शुरू कर दिया है जिसकी उपभोक्ता आलोचना कर रहे हैं.

कंपनी का कहना है कि ऐसा फेसबुक पर जानकारियों को सहज बनाने के लिए किया गया है.

कंपनी के मुताबिक अगर फेसबुक का नया ईमेल सिस्टम कामयाब रहता है वेबसाइट के पृष्ठों पर ज्यादा से ज्यादा लोग आएंगे और इससे विज्ञापन की बिक्री बढ़ेगी.

लेकिन कुछ यूजर्स का कहना है कि इससे उपभोक्ताओं की परेशानी बढ़ जाएगी.

फेसबुक ने ईमेल सिस्टम में बदलाव के बारे में अप्रैल में अपनी योजनाओं का एलान किया था, हालांकि इस खबर पर उस समय ज्यादा लोगों का ध्यान नहीं गया था.

"ये वैसा ही काम है जैसा कि गूगल ने अपने बज़ के साथ किया था जबकि लोगों को स्वत: उसमें शामिल कर लिया गया था. उपभोक्ताओं ने उसकी कड़ी निंदा की थी"

विश्लेषक एंथनी मुलेन

कंपनी के एक बयान के मुताबिक, "हम सभी फेसबुक उपभोक्ताओं को फेसबुक का ईमेल पता मुहैय्या करा रहे हैं क्योंकि हमें लगता है कि कई उपभोक्ता इसे एक-दूसरे से जुड़ने में मददगार पाते हैं लेकिन फेसबुक ईमेल का इस्तेमाल पूरी तरह उपभोक्ताओं की इच्छा पर निर्भर है."

यूज़र परेशान

एक विश्लेषक ने बीबीसी को बताया कि फेसबुक के इस प्रयास की उल्टी प्रतिक्रिया भी हो सकती है.
फॉरेस्टर रिसर्च के मार्केटिंग विश्लेषक एंथनी मुलेन के मुताबिक, ''ये वैसा ही काम है जैसा कि गूगल ने अपने बज़ के साथ किया था जबकि लोगों को स्वत: उसमें शामिल कर लिया गया था. उपभोक्ताओं ने उसकी कड़ी निंदा की थी.''

वो आगे कहते हैं, "ये पारदर्शिता की कमी का मामला है. इस कदम को उठाने से पहले फेसबुक सदस्यों की अनुमति ली जानी चाहिए थी."

फेसबुक की प्रतिद्वंद्वी सोशल नेटवर्किंग साइट ट्विटर पर जो संदेश पोस्ट किए गए हैं उससे पता चलता है कि कुछ उपभोक्ता फेसबुक के कदम से कितने नाराज़ हैं.

मैनचेस्टर की एक फेसबुक यूजर जोसलीन अरुंडेल ने ट्विटर पर लिखा है,"पहले चेतावनी देना ठीक होता फेसबुक. सीधे ईमेल पता बदलना ठीक नहीं."

लंदन में रहनेवाले डेरेन गाव ने ट्विटर पर लिखा है,"ये फेसबुक का एक बुरा कदम है."

वहीं कैलिफोर्निया में रहनेवाले ब्रेंट जागोनिक ने लिखा है, "विचार अच्छा है लेकिन इसे सही तरीके से लागू नहीं किया गया."

कुछ संदेशों में फेसबुक के कदम की सराहना भी की गई है.

हालांकि उपभोक्ताओं को ये विकल्प दिया गया है कि अगर वो चाहें तो अपने प्रोफाइल में जाकर फेसबुक द्वारा लाए गए इस ईमेल बदलाव को अस्वीकार भी कर सकते हैं.

इससे जुड़ी और सामग्रियाँ

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.