वॉशिंगटनः पगड़ी और कृपाण के साथ पुलिस की नौकरी

 बुधवार, 30 मई, 2012 को 10:26 IST तक के समाचार
अमरीकी पुलिस

वॉशिंगटन की पुलिस प्रमुख कैथी लानियर ने नए नियमों का एलान किया.

अमरीका की राजधानी वॉशिंगटन डीसी में पहली बार सिखों को पुलिस विभाग में अपने पूरे धार्मिक आस्था के प्रतीकों के साथ नौकरी करने की इजाजत मिल गई है.

अब वहां सिख पगड़ी, दाढ़ी और कृपाण समेत सभी धार्मिक प्रतीकों के साथ पुलिस में नौकरी कर सकेंगे.

इससे पहले सिखों को पुलिस की नौकरी के दौरान पगड़ी, दाढ़ी आदि के साथ सिर्फ ट्रैफिक पुलिस जैसे विभागों में भर्ती किया जाता था.

वॉशिंगटन की पुलिस प्रमुख कैथी लानियर ने विशेष निर्देश जारी कर शहर के पुलिस विभाग के यूनिफॉर्म या वर्दी संबंधी कानून में बदलाव का एलान किया.

लेनियर ने कहा,“मुझे इस नई नीति पर गर्व है. ये हमारे पुलिस विभाग के मूल्यों को दर्शाती है. इसी के तहत हमने तय किया है कि सिख अमरीकी भी पुलिस विभाग में काम करके देश की राजधानी को सुरक्षा प्रदान कर सकते हैं और अपने सुमदाय की सेवा कर सकते हैं.”

'पूरी पुलिस के लिए मिसाल'

अमरीका में वॉशिंगटन पहला शहर है जहां पुलिस विभाग में सिखों को अपने धार्मिक प्रतीकों के साथ पुलिस की नौकरी करने की अनुमति मिली है.

"इस तरह के फैसले से विभिन्न समुदाय के लोगों को पुलिस फोर्स में नौकरी करने के रास्ते में आनी वाली बाधाएं हट जाएंगी. और यह पूरे देश के कानून व्यवस्था संबंधी विभागों के लिए भी एक मिसाल होगी."

जसजीत सिंह, एक सिख संस्था के प्रमुख

वॉशिंगटन में कानूनी मामलों में सिखों की मदद करने वाली एक संस्था सिख अमेरिकन लीगल डिफ़ेंस फंड (साल्डेफ) ने भी इस मामले में पुलिस विभाग से नीति बदलने की मांग की थी.

अब ये संस्था पुलिस विभाग के साथ उसकी इस नीति में बदलाव लाने के पहलुओं पर काम कर रही है.

इस संस्था के निदेशक जसजीत सिंह कहते हैं, “पुलिस प्रमुख लेनियर और पुलिस विभाग ये जानते हैं कि इस तरह के फैसले से विभिन्न समुदाय के लोगों को पुलिस फोर्स में नौकरी करने के रास्ते में आनी वाली बाधाएं हट जाएंगी. और यह पूरे देश के कानून व्यवस्था संबंधी विभागों के लिए भी एक मिसाल होगी.”

जसजीत सिंह कहते हैं कि नई नीति के कारण कम से कम राजधानी में सिख अमरीकी भी दूसरे अमरीकियों की तरह बराबरी के साथ पुलिस में नौकरी कर सकेंगे.

उन्हें उम्मीद है कि अब शहर के पुलिस विभाग में सिखों की संख्या में बढ़ोत्तरी होगी.

न्यूयॉर्क में नहीं इजाजत

अमरीका में करीब 7 लाख सिख रहते हैं.

लेकिन बहुत से सिखों को पुलिस और अन्य सुरक्षा विभागों में अपने धार्मिक प्रतीकों के साथ नौकरी करने में मुश्किल पेश आती है. वे खासकर पगड़ी, दाढ़ी और कृपाण रखने के कारण कई सुरक्षा एजेंसियों में नौकरी नहीं कर पाते.

वॉशिंगटन

वॉशिंगटन पहला अमरीकी शहर है जहां सिखों को धार्मिक प्रतीकों के साथ पुलिस में नौकरी करने की इजाजत दी गई है.

कई शहरों में सिख बरसों से मांग करते रहे हैं कि उन्हें विभिन्न क्षेत्रों में नौकरी के दौरान भी अपने धर्म का पालन करने की छूट दी जानी चाहिए. वॉशिंगटन के बाद अब दूसरे अमरीकी शहरों में भी इस तरह की मांग करने लगे हैं.

न्यूयॉर्क में एक संस्था ‘सिख कोएलिशन’ शहर के पुलिस विभाग से कई सालों से सिखों के लिए पुलिस की नौकरी में विशेष छूट की मांग कर रही है लेकिन अभी कामयाबी नहीं मिली है.

सिख कोएलिशन के निदेशक अमरदीप सिंह कहते हैं, “अगर वॉशिंगटन का पुलिस विभाग सिखों के लिए विशेष तौर पर नीति में बदलाव करके उनकी भर्ती कर सकता है तो न्यूयॉर्क पुलिस विभाग क्यों नहीं कर सकता.”

अमरदीप सिंह कहते हैं कि हाल ही में इस बारे में न्यूयॉर्क पुलिस विभाग के अधिकारियों से उनकी बैठक भी हुई थी लेकिन अभी तक पुलिस विभाग से कोई सकारात्मक जवाब नहीं मिल सका है.

लेकिन वॉशिंगटन में सिखों को मिली अनुमति के बाद उन्हें इस दिशा में अब प्रगति की उम्मीद है.

इससे जुड़ी और सामग्रियाँ

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.