पहले चूजा, अंडा नहीं

 गुरुवार, 19 अप्रैल, 2012 को 15:11 IST तक के समाचार

न तो मुर्गी के बिना अंडा संभव है और न ही अंडे के बिना मुर्गी. लेकिन श्रीलंका की एक मुर्गी ने इस बात को गलत साबित कर दिया है.

वहां एक मुर्गी ने अंडे की बजाय एक चूजे को जन्म दिया है. मुर्गी के पेट में ही अंडे से बच्चा निकल गया.

दरअसल श्रीलंका के पहाड़ी इलाके में रहने वाले रंजीत एकानायके के घर में जब ये सब हुआ तो उनकी हैरानी का ठिकाना नहीं था.

दरअसल शुरू में तो उन्हें इतना ही पता था कि उनकी छह मुर्गियों में से एक ने कोई अंडा नहीं दिया है. लेकिन वह हैरान रह गए, जब देखा कि अंडे की बजाय उस मुर्गी ने चूजे को जन्म दिया. बिना अंडा एक पूर्ण विकसित चूजा.

ये चूजा जिंदा है और पूरी तरह स्वस्थ भी है. लेकिन उसकी मां मर गई. इलाके के सरकारी पशु चिकित्सा अधिकारी का कहना है कि उन्होंने कभी इस तरह का मामला नहीं सुना है. अखबारों में तस्वीरें भी छपी हैं जिनमें वह मुर्गी की मृत शरीर को जांच परख रहे हैं.

उनका कहना है कि मुर्गी के प्रजननीय तंत्र में एक अंडा विकसित हो गया. यह अंडा मुर्गी के शरीर के बाहर आने की बजाय 21 दिनों तक उसके अंदर ही रहा और वहीं उससे बच्चा निकल गया.

पोस्टमॉर्टम की रिपोर्ट से पता चला कि मुर्गी अंदरूनी घांवों की वजह से मरी.

बहरहाल इस मामले की चर्चा मीडिया में खूब हुई. स्थानीय अख़बार ‘द श्रीलंकन डेली मिरर’ की सुर्खी थीः पहले चूजा आया, अंडा नहीं.

इससे जुड़ी और सामग्रियाँ

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.