BBC navigation

इंडोनेशिया में बड़ा भूकंप, सूनामी की चेतावनी

 बुधवार, 11 अप्रैल, 2012 को 15:39 IST तक के समाचार
आचेह में भूकंप

इंडोनेशिया में भूकंप के तगड़े झटकों के बाद उत्तरी आचे प्रांत में सूनामी की चेतावनी दी गई है. अमरीकी जियोलॉजिकल सर्वे के मुताबिक उत्तरी सुमात्रा में आए इस भूकंप की तीव्रता 8.6 थी.

पहले बताया जा रहा था कि इस भूकंप की तीव्रता 8.7 है लेकिन बाद में इसे कम करके आंका गया है.

भूकंप के बाद इंडोनेशिया, थाईलैंड और भारत समेत कई देशों को सूनामी की लहरें उठने की संभावना के प्रति चेताया गया है. सूनामी की चेतावनी अमरीका के प्रशांत महासागर सूनामी केंद्र ने भी जारी की है.

क्लिक करें दुनिया के कुछ बड़े भूकंपों की जानकारी के लिए यहां क्लिक करें

ख़ुद कई देशों की आपदा प्रबंधन संस्थाओं ने ऐसी चेतावनियां जारी की हैं.

अंडमान-निकोबार के लिए चेतावनी

कहाँ आया भूकंप

भारत में हैदराबाद स्थित सूनामी चेतावनी केंद्र ने अंडमान निकोबार द्वीपों के लिए सूनामी चेतावनी जारी है.

इस केंद्र के एक अधिकारी किशोर एंजेल ने बीबीसी संवाददाता उमर फारुक को बताया है कि अंडमान निकोबार के तीन स्थानों पर सूनामी की लहरें उठने का ख़तरा है.

उन्होंने कहा कि उनका केंद्र भूकंप के पूरे असर का आंकलन करने में जुटे हुए हैं.

हैदराबाद के सूनामी चेतावनी केंद्र के निदेशक सतीश चंद्र शेनॉय ने कहा है कि उनका केंद्र समुद्र में हो रही हलचल पर नज़र रखे हुए है और फिलहाल उन्हें समुद्र जलस्तर में कोई खतरनाक बदलाव नहीं दिखा है.

भारत में कोलकाता, चेन्नई, बैंगलोर और पूर्वी तट पर स्थित कई अन्य शहरों में भूकंप के हल्के झटके महसूस किए गए हैं.

कुछ खबरों के अनुसार कोलकाता के पार्क स्ट्रीट इलाके की कुछ इमारतों में दरारें आई हैं. शहर में दोपहर दो बजकर 42 मिनट से मैट्रो सेवाओं को रोक दिया गया है.

"वहां बिजली चली गई है. ऊंचे स्थानों की ओर जाने की होड़ में ट्रैफिक जाम हो गई है. सब जगह सायरन बज रहे हैं और मस्जिदों में कुरान की आयतें पढ़ी जा रही हैं."

सुतोपो, इंडोनेशिया आपदा प्रबंधन एजेंसी के प्रवक्ता

उधर इंडोनेशिया की आपदा प्रबंधन एजेंसी ने कहा है कि देश के आचेह प्रांत में बिजली गुल हो गई है और लोग ऊंचे स्थानों पर जमा हो गए हैं.

एजेंसी के प्रवक्ता सुतोपो ने रॉयटर्स को बताया, "वहां बिजली चली गई है. ऊंचे स्थानों की ओर जाने की होड़ में ट्रैफिक जाम हो गई है. सब जगह सायरन बज रहे हैं और मस्जिदों में कुरान की आयतें पढ़ी जा रही हैं. "

चेतावनी

समाचार एजेंसी एएफ़पी ने अमरीका के प्रशांत सूनामी चेतावनी केंद्र के हवाले से कहा है, "इतनी तीव्रता के भूकंप से सूनामी की भयंकर लहरें उठने की संभावना है. और इसकी ज़द में हिंद महासागर के कई तटीय इलाके आ सकते हैं."

"इतनी तीव्रता के भूकंप से सूनामी की भयंकर लहरें उठने की संभावना है. और इसकी ज़द में हिंद महासागर के कई तटीय इलाके आ सकते हैं."

अमरीका का प्रशांत सूनामी चेतावनी केंद्र

वर्ष 2004 में हिंद महासागर में भूकंप के बाद आई सूनामी के कारण आचे प्रांत में एक लाख 70 हजार लोग मारे गए थे.

उधर फुकेट में थाईलैंड के आपदा प्रबंधन कार्यालय ने कहा है कि अंडमान द्वीप के तट पर रहने वाले लोगों को सूनामी की चेतावनी का पालन करते हुए सुरक्षित स्थानों पर चले जाना चाहिए.

फुकेट के नोवोटेल होटल की एक कर्मचारी ने बीबीसी को बताया है कि सभी मेहमानों और कर्मचारियों को सूनामी की चेतावनी के बारे में बता दिया गया है लेकिन फिलहाल लोगों को सुरक्षित स्थान तक ले जाने की औपचारिक शुरूआत नहीं हुई है.

अमरीका के प्रशांत सूनामी चेतावनी केंद्र ने कई देशों के लिए सूनामी चेतावनी जारी की है. इंडोनेशिया, भारत, श्रीलंका, बर्मा और थाईलैंड के अलावा मलेशिया, सिंगापोर बांग्लादेश, पाकिस्तान और सोमालिया तक के लिए चेतावनी जारी की गई है.

इससे जुड़ी और सामग्रियाँ

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.