BBC navigation

दुनिया की सबसे बड़ी हाथ से लिखी कुरान

 रविवार, 1 अप्रैल, 2012 को 05:41 IST तक के समाचार
कुरान

इस कुरान को लिखने और बनाने में लगभग पांच साल का वक्त लगा है

अफगानिस्तान की राजधानी काबुल में हाथ से लिखे हुए कुरान की एक उत्कृष्ट और अदभुत किताब को लोगों के देखने के लिए रखी गई है.

इस कुरान को लिखने और बनाने में लगभग पांच साल का वक्त लगा है. इसे बनाने में बेहतरीन कपड़ों का इस्तेमाल किया गया है और इसका वज़न पांच किलोग्राम है.

ये अब तक पूरी दुनिया में हाथ से लिखी गई सबसे बड़ी कुरान है, जिसने अफगानिस्तान के लोगों को खुद पर गर्व करने की एक बड़ी वजह दी है.

कुरान को देखने आए पर्यटक सखीदाद के अनुसार,''ये एक उत्कृष्ट रचना है जो अपने आप में नायाब है. मैं अफगानिस्तान के धार्मिक गुरुओं और मौलवियों से कहना चाहता हूं कि वो इस तरह के काम आगे भी करते रहें जिससे ना सिर्फ हम जैसे अफगान नागरिकों को गर्व हो बल्कि पूरी दुनिया में हमारे देश का नाम हो.''

ये प्रदर्शनी सप्ताह में दो दिन के लिए खुली हुई है और अभी तक इसका हर तरफ खूब स्वागत हुआ है.

इस कुरान को तकरीबन ढाई मीटर लंबे और डेढ़ मीटर चौड़े शीशे के संदूक में रखा गया है जिसके चारों तरफ चक्कर लगाने में अच्छा-खासा समय लग सकता है.

इस उत्कृष्ट कुरान को लिखने वाले कलाकार का नाम मोहम्मद साबिर हुसैनी है जिन्होंने ईरान से सुलेखन और चित्रकारी की कला सीखी है.

साबिर हुसैनी का कहना है,''पूरी दुनिया हमें लड़ाकों और योद्दाओं के देश के रूप में जानती है लेकिन मैं पूरी दुनिया को ये बताना चाहता हूं कि हमारे देश की सांस्कृतिक परंपरा भी काफी समृद्ध है.''

सभी मुस्लिम देशों में कैलीग्राफी यानि लिखने की कला काफी लोकप्रिय है और यहां मुसलमानों को लगता है कि पवित्र कुरान को इस तरह से लिखने से आने वाली कई पीढ़ियों तक ना सिर्फ ये लोकप्रिय रहेगा बल्कि बड़ी संख्या में पर्यटक भी इसे देखने यहां आते रहेंगे.

इससे जुड़ी और सामग्रियाँ

इसी विषय पर और पढ़ें

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.