BBC navigation

क्या फर्जी है बराक ओबामा का जन्म प्रमाण-पत्र?

 शनिवार, 3 मार्च, 2012 को 23:22 IST तक के समाचार
ओबामा

जो अर्पाइयो लगातार पांच बार मारिकोपा के शेरिफ चुने जा चुके हैं और अप्रवासी मामलों में रुची लेते हैं

अमरीका के एरिज़ोना प्रांत के शेरिफ़ जो अर्पाइयो ने दावा किया है कि अमरीका के राष्ट्रपति बराक हुसैन ओबामा का जन्म प्रमाण पत्र फर्ज़ी हो सकता है.

जो अर्पाइयो खुद को अमरीका के सबसे सख्त़ शेरिफ़ मानते हैं. वे मारीकोपा काउंटी के शेरिफ़ हैं. उन्होंने ये दावा 'मूल' से संबंधित जांच के नतीजों को जनता के सामने लाते हुए किया है.

अर्पाइयो के मुताबिक, जांचकर्ताओं के हाथ कुछ संभावित कारण लगे हैं जिसके आधार पर ये कहा जा सकता है कि ओबामा के जन्म प्रमाणपत्र को धोखे से बनाया गया है.

अर्पाइयो को अमरीका में अप्रवासियों के मुद्दे पर सख्त़ रुख़ अपनाने के लिए जाना जाता है. उन पर नस्लभेदी होने के भी कई आरोप लग चुके हैं.

अमरीकी न्यायिक संस्थाओं ने अर्पाइयो और उनके विभागीय कर्मचारियों पर लगातार लातिन अमरीकीयों के साथ भेदभाव करने के संगीन आरोप लगाए हैं.

अर्पाइयो के भ्रष्टाचार निरोधी इकाई के खिलाफ़ एक संघीय न्यायिक जांच भी चल रही है. इसके अलावा मारीकोपा काउंटी के लिए होने वाले आगामी चुनावों के संबंध में भी जांच के आदेश हैं.

चाय-पार्टी में निवेदन

79 वर्षीय अर्पाइयो के अनुसार, उनकी संस्था 'कोल्ड केस पौस्स' के वॉलंटियर को खोज के दौरान अमरीकी राष्ट्रपति बराक ओबामा के जन्म प्रमाण पत्र की एक इलेक्ट्रॉनिक कॉपी मिली है जिसमें उनकी जन्म की तारीख़ पर गहरे सवाल खड़े हो गए हैं.

वैसे अर्पाइयो ने साथ-साथ ये भी जोड़ दिया कि,''उनके सामने जो सबूत लाए गए हैं उसकी छानबीन के बाद वे पुख्त़ा तौर पर इन्हें सही नहीं कह सकते हैं.''

"मेरे जांचकर्ताओं का ये मानना है कि इलेक्ट्रॉनिक स्वरूप में ओबामा का जो जन्म प्रमाण पत्र उन्हें मिला है वो कागज़ों में मौजूद नहीं है"

जो अर्पाइयो, शेरिफ, मारीकोपा

अपनी बात को आगे बढ़ाते हुए उन्होंने ये भी कहा,''मेरे जांचकर्ताओं का ये मानना है कि इलेक्ट्रॉनिक स्वरूप में ओबामा का जो जन्म प्रमाण पत्र उन्हें मिला है वो कागज़ों में मौजूद नहीं है.''

व्हाइट हाउस ने अप्रैल 2011 में सिद्धांतकारों के इस संशय के बीच कि ओबामा का जन्म शायद अमरीका ना हुआ हो, उनका जन्म प्रमाणपत्र जारी किया था.

अगर अर्पाइयो का दावा सही पाया जाता है तो ऐसे में बराक ओबामा जिनके पिता एक कीनियाई नागरिक थे, राष्ट्रपति पद के लिए अयोग्य करार दिए जाएंगे.

ओबामा का जन्म प्रमाणपत्र जारी किए जाने से कहीं ना कहीं रियलिटी टीवी स्टार डोनाल्ड ट्रंप और वे उद्योगपती संतुष्ट हुए हैं जिन्होंने इस मुद्दे पर ज़्यादा साफगोई की मांग की थी.

लेकिन अर्रपाइयो का कहना है कि उन्होंने ये जांच वर्ष 2011 में एरिज़ोना में हुए एक चाय पार्टी के दौरान पार्टी में आए सदस्यों की मांग पर शुरु की थी.

ओबामा

ओबामा का जन्म अमरीका में नहीं होने पर वे राष्ट्रपति पद के लिए अयोग्य घोषित किए जा सकते हैं

अर्पाइयो के मुताबिक ओबामा के इलेक्ट्रॉनिक और कागज़ी जन्म प्रमाणपत्र दोनों की तुलना की गई है और जिन संभावित कारणों पर शक जताया जा रहा है, उसके आधार पर आपराधिक जांच और राष्ट्रपति पद के उम्मीदवारों की बेहतर छानबीन कराए जाने की ज़रुरत है.

अर्पाइयो के मुताबिक,''अगर इस जांच से कुछ नहीं निकलता है तो हमें अमरीका में हो रहे राष्ट्रपति चुनाव के उम्मीदवारों की जांच के लिए बेहतर प्रक्रिया की ज़रुरत होगी.''

अर्पाइयो के आलोचकों का मानना है कि उन्होंने ओबामा के खिलाफ़ जांच कार्य की शुरुआत उनके खिलाफ़ चल रहे कानूनी मसलों से लोगों का ध्यान हटाने के लिए किया है, लेकिन शेरिफ़ अर्पाइयो ने इसे नकारते हुए कहा कि, वे ओबामा के पीछे नहीं भाग रहे हैं, सिर्फ अपना काम कर रहे हैं.''

इससे जुड़ी और सामग्रियाँ

इसी विषय पर और पढ़ें

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.