बंधक बनाए गए स्कूली बच्चे रिहा

मलेशिया (फ़ाईल फ़ोटो)

मलेशिया में इस तरह की घटनाएं बहुत कम सुनने को मिलती हैं.

मलेशिया में पुलिस के अनुसार दक्षिणी प्रांत जोहोर में एक स्कूल में बंधक बनाए गए 30 बच्चों और उनके शिक्षकों को रिहा करा लिया गया है.

पुलिस ने स्कूल में घुसकर बंधक बनाने वाले पर क़ाबू पा लिया.

पुलिस के अनुसार सभी बच्चे और शिक्षक सुरक्षित हैं. ये पूरा मामला लगभग सात घंटों तक चला.

इससे पहले ख़बर मिली थी कि गुरूवार की सुबह जोहोर प्रांत के मुआर शहर में स्थित एक स्कूल में एक व्यक्ति ने 30 बच्चों और शिक्षको को बंधक बना लिया था.

माना जा रहा है कि स्कूल में वो सुबह सवेरे ही दाख़िल हो गया था.

समाचार एजेंसी एएफ़पी के अनुसार स्थानीय पुलिस प्रमुख मोहम्मद नासिर रामली ने इस बारे में जानकारी देते हुए कहा था, ''हमलोग बंधक बनाने वाले से बातचीत कर रहे हैं और उन्हें बच्चों को छोड़ने की अपील कर रहें हैं.उन्होंने 30 बच्चों को बंधक बनाया हुआ है.''

स्टार अख़बार के अनुसार बंधक बनाने वाले ने वार्ताकारों से एक बंदूक़ की मांग की थी . उसने धमकी दी थी कि उसकी मांग पूरी नहीं हुई तो वो सभी बच्चों को मार देगा.

ख़बर मिलने के बाद पुलिस ने पूरे इलाक़े को घेर लिया था और बंधक बनाने वालों से बातचीत कर रही थी.

ख़बरों के अनुसार बंधक बनाने वाले के पास एक हथौडा़ था और उसने बच्चों और शिक्षकों को स्कूल बिल्डिंग की दूसरी मंज़िल पर पहुंचा दिया था.

बंधक बनाए गए बच्चों में से एक के पिता ने समाचार एजेंसी एएफ़पी को बताया कि उन्हें स्थानीय समयानुसार सुबह 10 बजे इसकी सूचना दी गई और कहा गया कि बंधक बनाने वाले के पास एक हथौड़ा और एक चाक़ू है.

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.