तेल का पता बाइबिल में

तेल की खोज

इसराइल में ज़यन कंपनी पांच साल से खुदाई कर रही है

अगर किसी को ज़मीन के नीचे तेल का भंडार ढूंढना हो तो बाइबिल का 'ओल्ड टेस्टामेंट' तो क़तई पहली जगह नहीं होगी जिसके आधार पर तेल की तलाश की जाए.

लेकिन एक अमरीकी कंपनी ठीक ऐसा ही कर रही है.

अमरीका की ज़ियन ऑयल और गैस कंपनी इसराइल में तेल और गैस के ज़ख़ीरे की तलाश के लिए ओल्ड टेस्टामेंट पर भरोसा करके तेल तलाश करने का काम कर रही है.

यहूदियों के यहां एक पुराना चुटकुला है कि जब पैग़म्बर मूसा इसराइलियों को मिस्र से निकालकर ले जा रहे थे तो एक मोड़ पर वे ग़लत रास्ते पर आ गए और मध्य एशिया के उस कोने पर जा कर रुके जहां कोई तेल नहीं था.

बाइबल

ब्राउन बाइबल की बात मानकर तेल की तलाश भी कर रहे हैं

लेकिन ज़ियन ऑयल और गैस कंपनी के संस्थापक जॉन ब्राउन के अनुसार यह चुटकुला ग़लत है.

यरुशलम से बीबीसी संवाददाता का कहना है कि जॉन ब्राउन टेक्सस के बड़े लोगों में गिने जाते हैं, वे पक्के ईसाई हैं और मसीही किताबों में विश्वास रखते हैं. साथ ही वे इसराइल के कट्टर समर्थक भी हैं.

विश्वास

उनका मानना है कि इसराइल में छिपे तेल का पता बाइबिल के पुराने नुस्ख़े 'ओल्ड टेस्टामेंट' में निहित है. उनका मानना है कि यह ओल्ड टेस्टामेंट के पहले अध्याय 'जेनेसिस' में मौजूद है जिसमें ईश्वर ने कहा है, "ख़ज़ाने काफ़ी नीचे दबे पड़े हैं."

पिछले पांच वर्षों से ज़ियन कंपनी उत्तरी इसराइल के मेगिड्डो इलाक़े में खुदाई कर रही है, इस इलाक़े को वैसे आर्मेगाडन यानी महायुद्ध के स्थान के नाम से भी जाना जाता है.

वैसे अभी तक वहाँ कुछ मिला नहीं है, लेकिन हाल ही में इसराइल के तटवर्तीय इलाक़े में मिले गैस के ज़ख़ीरे ने ब्राउन के विश्वास को बल दिया है.

इसी प्रकार एक अमरीकी भूवैज्ञानिक सर्वेक्षण रिपोर्ट के अनुसार इसराइल के लेवांट बेसिन के नीचे 1.7 अरब बैरल तेल का ज़ख़ीरा हो सकता है.

इसके बावजूद ब्राउन की विश्वास बाइबिल के पुराने नुस्ख़े पर ही आधारित है.

उनका कहना है, "हम लोग ज़रूर कामयाब होंगे क्योंकि ईश्वर ने बाइबिल में ऐसा ही कहा है."

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.