चीनः जहाँ दो बच्चे गुनाह वहाँ सात बच्चे

1 सितंबर 2014 अतिम अपडेट 14:19 IST पर

हालांकि चीन ने एक बच्चे की राष्ट्रीय परिवार नियोजन नीति में राहत दे रखी है लेकिन यांग होंगनियन के तो सात बच्चे हैं.
चीन में सात भाई बहनों वाला एक परिवार
यांग होंगनियन और उनके सात बच्चों की कहानी पहली नज़र में एकदम से अविश्वसनीय लगती है. अंदाजा लगाना मुश्किल है कि 20 वर्ग मीटर के घर के भीतर नौ लोगों की एक पूरी दुनिया बसी हुई है. सभी तस्वीरें और कैप्शनः समाचार एजेंसी रायटर्स
चीन में सात भाई बहनों वाला एक परिवार
उनके घर के बाहर बच्चे खेल रहे हैं और यांग अपना काम निपटाकर थके मांदे चेहरे के साथ सुस्ताने के लिए सिगरेट सुलगाते हैं. तभी सारे बच्चे उन्हें घेर लेते हैं और उनके घर की तंग जगह पूरी तरह से भर जाती है.
चीन में सात भाई बहनों वाला एक परिवार
यांग और उनकी पत्नी ले हुइमिन की शादी के दस साल हो चुके हैं और इस शादी से उन्हें छह बच्चे हैं. ले हुइमिन की इससे पहले भी एक शादी हो चुकी है और पहले पति से उन्हें एक बेटी है जोकि अब इस परिवार का हिस्सा है.
चीन में सात भाई बहनों वाला एक परिवार
चीन ने लंबे समय तक एक बच्चे की नीति को कड़ाई से लागू किया. हालांकि चीन ने एक बच्चे की नीति में फिलहाल राहत दे रखी है ताकि दूसरे बच्चे की चाहत रखने वाले जोड़े अपना परिवार बढ़ा सकें.
चीन में सात भाई बहनों वाला एक परिवार
लेकिन इसके बावजूद यांग और ले हुइमिन का परिवार इतना बड़ा है कि वे निश्चित रूप से चीन की राष्ट्रीय परिवार नियोजन नीति को तोड़ चुके हैं.
चीन में सात भाई बहनों वाला एक परिवार
इसका मतलब ये हुआ कि यांग के चार बच्चों को आवास का पट्टा मिलने में मुश्किल होगी. इन दस्तावेंजों के बिना यांग के बच्चों को प्राइमरी स्कूल में दाखिला लेने के लिए संघर्ष करना पड़ेगा. और इतना ही नहीं, वे जैसे जैसे बड़े होते जाएंगे, उनकी मुश्किलों की फेहरिस्त लंबी होती जाएगी.
चीन में सात भाई बहनों वाला एक परिवार
हालांकि यांग अभी 47 साल के ही हैं लेकिन वे अपनी उम्र से ज्यादा बूढ़े लगते हैं. वे चीन के निर्माण उद्योग में राज मिस्त्री और बढ़ई का काम करते हैं. कम वेतन और नियमित तौर पर काम न मिलना भी उनकी कई परेशानियों में से एक है. कभी कभी तो ऐसा भी वक्त आता है जब उन्हें काम ढूंढने की कड़ी मशक्कत करनी पड़ती है.
चीन में सात भाई बहनों वाला एक परिवार
वे किसी तरह औसतन हर महीने 30 से 40 हज़ार रुपये कमा लेते हैं. और इसी रकम में इस परिवार को पूरे महीने का खर्च निकालना पड़ता है क्योंकि ले हुइमिन को बच्चों की देखभाल के लिए घर पर ही रहना पड़ता है.
चीन में सात भाई बहनों वाला एक परिवार
यांग के पास कई लोग उनके बच्चों को गोद लेने की पेशकश लेकर भी आए और कुछ ने तो बच्चा गोद लेने की एवज में कई हज़ार रुपये मुआवजा देने का भी वादा किया जिसे यांग और ले हुइमिन ने ठुकरा दिया.
चीन में सात भाई बहनों वाला एक परिवार
यांग कहते हैं, "हमने इन बच्चों को जन्म दिया है और इनके लालन-पालन की जिम्मेदारी हमारी है और अगर हमें इसके लिए सड़कों पर भीख भी मांगना पड़ा तो हम मांगेगे."