BBC navigation

दिलों में महादेव लिए नंगे पैर कांवड़ यात्रा...

 शुक्रवार, 25 जुलाई, 2014 को 10:32 IST तक के समाचार
  • कांवड़ यात्रा, उत्तर प्रदेश
    प्रयाग के दशाश्वमेघ घाट पर शिव भक्तों की जल भरने के लिए लंबी क़तार लगी रही. कांवड़ भरने से पहले शिव भक्तों ने गंगा में डुबकी भी लगाई.
  • कांवड़ यात्रा, उत्तर प्रदेश
    कांवड़ में गंगा जल ले जाने की परंपरा बरसों पुरानी है.
  • कांवड़ यात्रा, उत्तर प्रदेश
    बारह साल का धीरज इलाहाबाद से गंगा जल ले कर काशी विश्वनाथ मंदिर तक पैदल जाएगा.
  • कांवड़ यात्रा, उत्तर प्रदेश
    कांवड़ की पूजा का भी विशेष महत्व है. पूरे श्रद्धा भाव से शिव भक्त पूजा करते हैं.
  • कांवड़ यात्रा, उत्तर प्रदेश
    यात्रा कितनी ही लंबी क्यों न हो, अधिकतर कांवड़िये नंगे पांव ही इसे पूरा करते हैं.
  • कांवड़ यात्रा, उत्तर प्रदेश
    जिनके दोनों पैर सलामत नहीं हैं वह भी भक्ति की शक्ति पर यक़ीन कर बैसाखियों के सहारे कांवड़ भरने पहुंचे हैं.
  • कांवड़ यात्रा, उत्तर प्रदेश
    गंगा जल भरने के बाद कांवड़ को ज़मीन पर नहीं रखा जाता. इसलिए इन्हें टिकाने के लिए ख़ास इंतज़ाम भी होते हैं.
  • कांवड़ यात्रा, उत्तर प्रदेश
    अब तो कांवड़ियों के कपड़े भी उनके उत्साह का ऐलान करते हैं.
  • कांवड़ यात्रा, उत्तर प्रदेश
    पिछले कुछ वर्षों से महिलाएं भी कांवड़ लेकर जाने लगी हैं.
  • कांवड़ यात्रा, उत्तर प्रदेश
    शाम हो चली है, लेकिन यात्रा अभी जारी है.

Videos and Photos

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.