रंगमंच पर जापानी महाभारत

16 जुलाई 2014 अतिम अपडेट 16:04 IST पर

जापान के कलाकारों ने पिछले दिनों फ़्रांस में महाभारत को नाटक के तौर पर पेश किया. देखिए कुछ तस्वीरें.
महाभारत
जापान के शिज़ूका परफ़ॉर्मिंग आर्ट्स सेंटर के कलाकारों ने पिछले दिनों फ़्रांस के एविनॉन में महाभारत-नल चरित्रम को नाटक के तौर पर पेश किया.
महाभारत
इस नाटक को जापान के मशहूर रंगकर्मी सतोशी मियागी ने निर्देशित किया है.
महाभारत
यूं तो महाभारत में अठारह पर्व या अध्याय हैं लेकिन सतोशी मियोगी ने इनमें से नल और दमयंती की कहानी को चुना है.
महाभारत
सतोशी मियागी का मंच अर्ध चंद्राकार होता है, आधा दर्शकों के सामने और आधा पीछे. नाटक की व्याख्या करने वाला शख़्स मंच पर ही खड़ा होता है.
महाभारत
नाटक में हास्य-व्यंग्य और संगीत की कोई कमी नहीं होती. शिज़ूका का एक कलाकार इस फ़ोटो में एक तख्ती लिए दिखाई दे रहा है जिस पर लिखा है "एकोटेज़ ला म्यूज़िक" यानी संगीत को सुनिए.
महाभारत
सतोशी मियागी का नाटक क़रीब दो घंटे में पूरा होता है लेकिन दर्शकों के मन में और देखने की इच्छा छोड़ जाता है.