BBC navigation

सीरियाई शरणार्थी: घर छूट गया, यादें रह गईं

 गुरुवार, 5 जून, 2014 को 11:33 IST तक के समाचार

तस्वीरों मेंः युद्ध कलाकार जॉर्ज बटलर, सीरिया के शरणार्थियों के साथ

  • उत्तरी लेबनान में बने हुए शरणार्थी शिविर का एक आम स्वरूप
    ब्रितानी कलाकार जॉर्ज बटलर हाल ही में उत्तरी लेबनान स्थित अस्थायी शरणार्थी शिविरों की यात्रा करके लौटे हैं. इन शिविरों में गृह युद्ध के कारण अपना देश छोड़ने वाले सीरियाई शरणार्थी रह रहे हैं. इस यात्रा के दौरान बटलर ने उनसे मिलने वाले लोगों और उनसे जुड़ी चीज़ों के रेखाचित्र बनाए.
  • दो सीरियाई भाई अपने माँ के तैयार किए हुए डिब्बे के साथ खेलते हुए
    इस रेखाचित्र में दिख रहे दो भाई एक डिब्बे से खेल रहे हैं. यह डिब्बा उनकी माँ ने सीरिया छोड़ने से पहले तैयार किया था. इसमें वैसलीन, टूथब्रश, उनका पहचान पत्र और अपनी बेटी से मिला धूप का चश्मा शामिल है.
  • उत्तरी बेका में स्थित एक अस्पताल
    यह उत्तरी बेका के अल क्वा में स्थित एमेल क्लीनिक में एक मनोचिकित्सक के साथ सामूहिक मनोवैज्ञानिक सलाह-सुझाव का दृश्य है. बटलर का समूह चिकित्सा के प्रति संदेह उस वक़्त दूर हो गया जब एक महिला ने भावुक होकर बात शुरू की तो वहाँ मौजूद सभी लोगों की आंखों में आंसू आ गए.
  • खालिद
    यह खालिद की तस्वीर है जिनकी उम्र ढाई साल है. उनका जन्म गृह युद्ध शुरू होने के छह महीने बाद हुआ था. आप उन्हें एक मोबाइल क्लीनिक की तस्वीर में साइकिल के टूटे पहिए से खेलते देख सकते हैं.
  • द वर्ल्ड मोबाइल क्लीनिक के डॉक्टर
    द वर्ल्ड मोबाइल क्लीनिक के डॉक्टर इस रेखा चित्र में कामेद एल लोज़ इलाके के एक शरणार्थी शिविर में दिख रहे हैं. ये टीम लोगों को प्राथमिक चिकित्सा और सलाह उपलब्ध कराती है. जिस किसान की ज़मीन पर ये शिविर है उसके लिए शरणार्थी काम करते हैं.
  • टेडी बियर और दूसरी चीज़ें
    सीरियाई बच्चे घर छोड़ते समय अपना टेडी बियर लेना नहीं भूले. उनकी माँ वह डिब्बा नहीं लेनी भूलीं जिसमें टॉर्च थी क्योंकि उन्हें पता था कि लेबनान की पहाड़ियों में उन्हें अंधेरे में वक़्त गुजारना होगा. इस डिब्बे में घरेलू काम की दूसरी चीज़ें भी थीं. वो इसे फेंक नहीं सके, ख़ास तौर पर उनके टीवी का रिमोट.
  • पासपोर्ट और घड़ी
    इस सफ़र में बटलर जिन भी लोगों से मिले उन सबके पास सीरिया से लाए गए सामान ज़्यादा नहीं थे. एक व्यक्ति के पास केवल एक पासपोर्ट था और एक घड़ी थी जो वो सीरिया से लेकर आए थे. ये व्यक्ति घड़ी की बैटरी ख़त्म होने के बाद भी उसे नहीं बदलना चाहता था, क्योंकि घड़ी में सीरियाई समय दिखाई दे रहा था.
  • टेडी बियर के साथ एक बच्चा
    एक छोटा बच्चा सीरिया से शरणार्थी के रूप में घर छोड़ते समय अपने टेडी बियर के साथ. कई परिवार केवल अपने बच्चों की ख़ातिर टेडी बियर लेकर आए थे.
  • एक परिवार का सामान
    बटलर जब ये रेखाचित्र बना रहे थे तो उस परिवार के बच्चे और उनके पिता मुस्करा रहे थे. रेखाचित्र में एक चाबी का गुच्छा, एक शादी का फ़ोटो और सीरिया के बारे में एक कविता के अलावा बहुत सी चीज़ें दिख रही हैं.
  • एक महिला के चेहरे पर गोदना
    इस महिला के चेहरे पर गोदना बना हुआ था. उन्होंने यह गोदना काफ़ी कम उम्र में बनवाया था.
  • यारमाउक में एक परिवार की चीज़ें
    यह परिवार फ़लस्तीन के एक शरणार्थी शिविर यारमुक से था. जब यह रेखाचित्र आधा ही बना था कि एक बच्ची ने पूछा कि इस गुड़िया का केवल एक पैर क्यों हैं? उसे लग रहा था कि शायद युद्ध के दौरान उसका एक पैर कट गया होगा. उसकी इस टिप्पणी पर कमरे में मौजूद किसी वयस्क सदस्य ने कोई प्रतिक्रिया नहीं दी. उनके लिए शायद यह रोजमर्रा की बात हो गई हो.

Videos and Photos

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.