सचिन तेंदुलकर: होगा जन्मदिन का जश्न भी, लेकिन पहले वोट

24 अप्रैल 2014 अतिम अपडेट 15:50 IST पर

मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर गुरुवार को 41 साल के हो गए हैं. उन्होंने जन्मदिन का जश्न मनाने से पहले लोकसभा चुनाव में अपना वोट डाला.
सचिन तेंदुलकर
मास्टर ब्लास्टर के नाम से मशहूर सचिन तेंदुलकर 24 अप्रैल को 41 साल के हो गए. अपने जन्मदिन का जश्न मनाने से पहले उन्होंने लोकसभा चुनाव के लिए अपना वोट डाला.
सचिन तेंदुलकर
18 दिसंबर 1989 को अपने अंतरराष्ट्रीय करियर का आगाज़ करने वाले सचिन तेंदुलकर का क्रिकेट से संन्यास के बाद ये पहला जन्मदिन है.
सचिन तेंदुलकर
पिछले साल नवंबर में अपने गृहनगर मुंबई में सचिन तेंदुलकर ने अपना आख़िरी टेस्ट खेला.
सचिन तेंदुलकर
उन्हें इसी साल देश के सर्वोच्च नागरिक सम्मान 'भारत रत्न' से नवाज़ा गया.
सचिन तेंदुलकर
सचिन तेंदुलकर ने हमेशा कहा कि उनका सपना था विश्वकप विजेता भारतीय टीम का हिस्सा बनना. हालांकि उन्होंने कुल छह विश्वकप में भारत का प्रतिनिधित्व किया, लेकिन उनका ये सपना उनके आख़िरी विश्वकप में साल 2011 में ही पूरा हो पाया जब भारत ने श्रीलंका को हराकर ये ट्रॉफ़ी जीती.
सचिन तेंदुलकर
सचिन के नाम टेस्ट मैचों में 15 हज़ार से ज़्यादा और वनडे मैचों में 18 हज़ार से ज़्यादा रन बनाने का रिकॉर्ड है. उन्होंने कुल 100 अंतरराष्ट्रीय शतक भी बनाए हैं. कोई भी क्रिकेटर आज तक ये कारनामा नहीं कर पाया.
सचिन तेंदुलकर
कहा जाता है कि उनके जैसी लोकप्रियता आज तक किसी भी भारतीय क्रिकेटर को नहीं मिली है. कई विशेषज्ञ उन्हें सदी का महानतम क्रिकेटर भी कहते हैं. सचिन को क्रिकेटिंग जगत में 'गॉड ऑफ़ क्रिकेट' के नाम से भी जाना जाता है.
सचिन तेंदुलकर
सचिन के सम्मान में इसी साल मार्च में विशालकाय स्टील के एक बल्ले का अनावरण किया गया और इसे 'बैट ऑफ़ ऑनर' की संज्ञा दी गई.
सचिन तेंदुलकर
रिटायरमेंट के बाद फ़िलहाल सचिन तेंदुलकर क्रिकेट से किसी भी तरह से नहीं जुड़े हैं और अपना पूरा वक़्त परिवार को दे रहे हैं.