नीचे दिया ऑडियो पेज डाऊनलोड करें

उच्च गुणवत्ता mp3 (3.5 एमबी)

'मैं बंधुआ मज़दूर तो नहीं'

26 मार्च 2014 अतिम अपडेट 00:30 IST पर

जेडीयू का मुस्लिम चेहरा रहे साबिर अली मीडिया में हमेशा पार्टी की नीतियों की वकालत करते नज़र आते थे. पर उन्हें बीजेपी के प्रधानमंत्री उम्मीदवार नरेन्द्र मोदी की प्रशंसा के आरोप में पार्टी से निष्कासित कर दिया गया.

साबिर अली का कहना है कि उनपर लगा यह आरोप ग़लत है. उनका यह भी कहना है कि जनता दल यूनाइटेड को ऐसा मुस्लिम नेता चाहिए जो अपने हक़ की बात न करे, बल्कि टिश्यू पेपर की तरह बस इस्तेमाल हो.

उनसे बात की बीबीसी संवाददाता पंकज प्रियदर्शी ने.