कुंआ जिसे लाशों से भर दिया गया

14 मार्च 2014 अतिम अपडेट 23:25 IST पर

अमृतसर के पास अजनाला में गुरुद्वारे के एकदम नीचे बने एक कुएं से निकली 282 भारतीय सिपाहियों की लाशें.
अजनाला
भारत के एक राज्य पंजाब में अमृतसर से 24 किलोमीटर दूर अजनाला पिछले दिनों काफ़ी सुर्खियों में रहा है.
अजनाला
सुर्खियों में रहने की वजह यह रही कि अजनाला में तीन दिनों तक चली खुदाई के बाद 1857 की आज़ादी की लड़ाई के एक महत्वपूर्ण अध्याय का ख़ुलासा हुआ है.
अजनाला
एक गुरुद्वारे के नीचे दबे कुएं की खुदाई के बाद सबूत मिले हैं कि 1857 के सैनिक विद्रोह के बाद ब्रिटिश शासकों ने 282 भारतीय सैनिकों को इस कुएं में गाड़ दिया था.
इसके अलावा 1830-40 के समय के ईस्ट इंडिया कंपनी के 70 सिक्के, दो ब्रिटिश सेना पदक, 3 सोने के बाज़ूबंद, 4 अंगूठियाँ और कुछ गोलियाँ भी खुदाई में मिली हैं.
अजनाला
जब खुदाई शुरू हुई तो पहले दिन अस्थियों के अलावा कुछ नहीं मिला. अगले दिन जब एक कंकाल की मुट्ठी को खोला गया तो उसमें 11 सिक्के मिले.
अजनाला
यह पदक भी खुदाई के दौरान मिला जिसका रंग वक्त के साथ बदल गया है.
अजनाला
इन चीज़ों और सैनिकों के अवशेषों को गुरुद्वारे के परिसर में ही रखा गया है जिन्हें देखने के लिए रोज़ हज़ारों लोग आ रहे हैं.