एक मुख्यमंत्री का धरना

20 जनवरी 2014 अतिम अपडेट 21:16 IST पर

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल रेल भवन के पास धरना दे रहे हैं. ये उन गिनी-चुनी घटनाओं में से एक है जब किसी सरकार का मुखिया अपने ही राज्य की पुलिस के ख़िलाफ़ प्रदर्शन कर रहा है.
अरविंद केजरीवाल
दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल दिल्ली के पांच पुलिस वालों के तबादले की मांग को लेकर धरने पर बैठे हुए हैं.
अरविंद केजरीवाल
पिछले दिनों एक छापे के दौरान दिल्ली के क़ानून मंत्री सोमनाथ भारती और पुलिस के बीच विवाद के बाद पुलिस और दिल्ली सरकार के बीच तनातनी की स्थिति बनी हुई है.
अरविंद केजरीवाल
इससे पहले केजरीवाल ने ऐलान किया था कि वो गृह मंत्रालय के बाहर धरने पर बैठेंगे. लेकिन पुलिस ने उन्हें वहां जाने से रोक दिया. इसके बाद केजरीवाल रेल भवन के बाहर ही धरने पर बैठ गए.
अरविंद केजरीवाल
केजरीवाल ने आम लोगों से भी धरने में शामिल होने की अपील की थी. हालांकि पुलिस ने इस इलाके में प्रवेश पर रोक लगा रखी है. केजरीवाल ने दिल्ली पुलिस पर आरोप लगाया है कि पुलिस की मिलीभगत के बिना दिल्ली में सेक्स या ड्रग रैकेट नहीं चल सकता.
अरविंद केजरीवाल
वहीं केंद्रीय गृह मंत्री सुशील शिंदे ने कहा है कि पद की गरिमा को देखते हुए केजरीवाल को उपराज्यपाल का सहयोग करना चाहिए.
अरविंद केजरीवाल
केंद्रीय गृह राज्य मंत्री आरपीएन सिंह ने ट्विटर पर लिखा, "करीब 4,000 सुरक्षाकर्मी दिल्ली के मुख्यमंत्री के धरने के लिए तैनात हैं. अगर मुख्यमंत्री दिल्ली की सुरक्षा के लिए गंभीर हैं तो उन्हें इन पुलिस वालों को अपने नियमित काम पर वापस जाने देना चाहिए."