BBC navigation

छ्त्तीसगढ़ के रावत नाच के रंग

 सोमवार, 25 नवंबर, 2013 को 12:05 IST तक के समाचार
  • रावत नाच के कलाकार
    छत्तीसगढ़ के मैदानी इलाकों में आजकल रावत नाच का मौसम है. सूरज के डूबने से लेकर आधी रात तक सड़कों, गलियों और मोहल्लों में नर्तक सुर-ताल और ढ़ेरों रंग के साथ उतरते हैं. यह क्रम पखवाड़े भर तक चलता है. (सभी तस्वीरें - आलोक प्रकाश पुतुल)
  • रावत नाच करते कलाकार
    छत्तीसगढ़ के बिलासपुर में पिछले 36 सालों से जन सहयोग से रावत नाच महोत्सव का आयोजन हो रहा है. इस साल इस आयोजन में क़रीब छह हज़ार नर्तकों ने भाग लिया.
  • रावत नाच करते कलाकार
    शनिवार शाम से शुरू हुआ यह कार्यक्रम रविवार सुबह तक चलता रहा. एक से बढ़ कर एक नर्तक दल इस आयोजन में शामिल हुए.
  • रावत नाच के कलाकार
    रंग-बिरंगे कपड़े पर कौड़ियों से बनी हुई जैकेट और अलग-अलग तरह की चमकदार रंगीन टोपियां इस समूह नृत्य की खासियत है.
  • रावत नाच के कलाकार
    नर्तक समूह कुछ दोहे गाते हैं और फिर उस पर नृत्य होता है. दोहे कबीर के भी होते हैं और निदा फ़ाज़ली के भी. छत्तीसगढ़ी भाषा के गीत तो ख़ैर होते ही हैं. आखिर में होता है लाठी चालन के साथ शौर्य का प्रदर्शन.
  • रावत नाच के कलाकार
    इन नर्तकों के साथ स्त्री वेश में कुछ पुरुष कलाकार भी स्वांग भरते नज़र आते हैं, जिन्हें परी कहा जाता है. ये परियां इस नृत्य की मुख्य आकर्षण होती हैं.
  • रावत नाच के कलाकार
    नृत्य के दौरान आमतौर पर गुदरुम, ढोल, डफड़ा, टिमकी, मोहरी, मंजीरा, मृदंग, नगाड़ा, झुमका, डुगडुगी, झुनझुना, घुंघरु, झांझ जैसे पारंपरिक वाद्य यंत्रों का इस्तेमाल होता है.
  • रावत नाच के कलाकार
    यह आयोजन दूर-दूर से आए रावत नर्तकों के मेल-मुलाकात का भी अवसर होता है. कलाकार दुख-सुख बतियाने और फिर जल्दी मिलने के वादे के साथ विदा होते हैं. (सभी तस्वीरें आलोक पुतुल)

Videos and Photos

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.