BBC navigation

लड़कियों की मुश्किलों का अंदाज़ा भी है?

 बुधवार, 11 दिसंबर, 2013 को 09:24 IST तक के समाचार

मीडिया प्लेयर

एक लड़की जब बाहर की ज़िंदगी में क़दम रखती है तो उसकी यात्रा उसे कहाँ ले जाती है? क्या उसे भी वही अवसर मिलते हैं जो उसके साथ बड़े हुए लड़कों को मिले हैं? बीबीसी की ख़ास पेशकश.

देखिएmp4

इस ऑडियो/वीडियो के लिए आपको फ़्लैश प्लेयर के नए संस्करण की ज़रुरत है

वैकल्पिक मीडिया प्लेयर में सुनें/देखें

एक लड़की जब बाहर की ज़िंदगी में क़दम रखती है तो उसकी यात्रा उसे कहाँ ले जाती है?

क्या उसे भी वही अवसर मिलते हैं जो उसके साथ बड़े हुए लड़कों को मिले हैं?

क्या उसके सामने भी वैसी ही चुनौतियाँ होंगी?

महिलाओं को मत देने का अधिकार मिले 100 साल से भी अधिक समय हो चुका है, पर अभी भी कई समाजों में वे अभी भी पुरूषों के दबदबे में रहती हैं.

दुनिया में लाखों लड़कियाँ अभी भी स्कूल नहीं जा पातीं, और माँ बन जाती हैं जबकि पश्चिमी देशों में उन्हीं की उम्र की लड़कियाँ शिक्षा और करियर के सपने बुनती हैं.

फिर भी महिलाओं के लिए आज की दुनिया पहले से काफ़ी बेहतर है. मातृत्व संबंधी स्वास्थ्य सुविधाएँ बेहतर हो रही हैं. शिक्षा भी सुगम हो रही है. वेतन बढ़ रहे हैं और महिलाएँ अब नीति-निर्धारकों में शामिल हो गई हैं.

Videos and Photos

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.