27 साल तक जहां पसरा रहा सन्नाटा....

16 सितंबर 2013 अतिम अपडेट 07:31 IST पर

ब्रिटेन के हैरोगेट में लाखों पाउंड के एक सौदे में एक भारतीय मूल के कारोबारी का घर बिका है. कहा जाता है कि किसी ने 27 साल से इस घर की किसी चीज़ को नहीं छुआ था. आखिर क्यों?
पाइनहीथ हाउस
इंग्लैंड के हैरोगेट में पाइनहीथ हाउस को हाल ही में कई लाख पाउंड में बेच दिया गया है.
पाइनहीथ हाउस
पाइनहीथ हाउस के मालिक भारतीय मूल के कारोबारी सर धनजीभॉय थे. सर धनजीभॉय 20वीं सदी में इंग्लैंड के जाने-माने लोगों में से थे. सर धनजीभॉय की एक तस्वीर.
पाइनहीथ हाउस
1920 के दशक का एक टेलीफोन. माना जाता है कि सर धनजीभॉय के इस घर का सामान पिछले 27 साल से छुआ नहीं गया.
पाइनहीथ हाउस
सर धनजीभॉय के घर के एक बेडरूम में एक प्यारी सी गुड़िया की तस्वीर.
पाइनहीथ हाउस
काफ़ी पुराने एक अख़बार की कतरन. सर धनजीभॉय और उनकी पत्नी लेडी बोमनजी को शाही परिवार का मित्र समझा जाता था.
पाइनहीथ हाउस
पाइनहीथ हाउस की चाबियों का एक ढेर. सर धनजीभॉय और लेडी बोमनजी पतझड़ के दिन पाइनहीथ हाउस में गुज़ारते थे, गर्मियां विंडसर में और ठंड तब के पूना में.
पाइनहीथ हाउस
सर धनजीभॉय के इस आलीशान घर में 12 बाथरूम हैं और 40 बेडरूम.
पाइनहीथ हाउस
सर धनजीभॉय के घर में हाथ से बना एक वॉलपेपर. सर धनजीभॉय ने नाज़ियों के खिलाफ ब्रिटेन की मदद की थी.
पाइनहीथ हाउस
माना जाता है कि साल 1986 में लेडी बोमनजी की मौत के बाद से उनकी बेटी महरू जहांगीर ने इस घर का सामान नहीं छुआ था. पुराने गानों की एक प्लेलिस्ट.
पाइनहीथ हाउस
साल 2012 में महरू जहांगीर की भी मौत हो गई. घर को एक स्थानीय कारोबारी ने ख़रीदा है. साल 1973 में दोपहर के भोजन के लिए एक आमंत्रण पत्र