जहाँ मौत के सालों बाद हिंदू जलाए जाते हैं

6 सितंबर 2013 अतिम अपडेट 20:22 IST पर

इंडोनेशिया के बाली द्वीप पर हिंदुओं के सामूहिक शवदाह की परंपरा रही है. तस्वीरों में देखिए कि किस तरह से लोग सामूहिक अंत्येष्टि करते हैं.
इंडोनेशिया के बाली द्वीप पर हिंदुओं का सामूहिक अंतिम संस्कार
इंडोनेशिया के बाली द्वीप पर सोमवार को हिंदुओं के एक विविधतापूर्ण समारोह में कई लोगों का एक साथ शवदाह किया गया.
इंडोनेशिया के बाली द्वीप पर हिंदुओं का सामूहिक अंतिम संस्कार
साँड़ सरीखे ताबूतों को जलता हुए देखने के लिए वहाँ शोकाकुल लोगों का एक बड़ा समूह मौजूद था.
इंडोनेशिया के बाली द्वीप पर हिंदुओं का सामूहिक अंतिम संस्कार
शोकाकुल लोगों ने समारोह के दौरान एक मीनार जैसी जगह पर से फूल और मुर्गे फेंके. इस समारोह में 63 शव जलाए गए.
इंडोनेशिया के बाली द्वीप पर हिंदुओं का सामूहिक अंतिम संस्कार
मुस्लिम बहुत इंडोनेशिया में बाली को हिंदू मतावलंबियों का गढ़ माना जाता है.
इंडोनेशिया के बाली द्वीप पर हिंदुओं का सामूहिक अंतिम संस्कार
कई दिनों तक चलने वाली परंपराओं और रीति-रिवाजों के बाद बाली द्वीप के गियानार इलाक़े में यह सामूहिक अंत्येष्टि की गई.
इंडोनेशिया के बाली द्वीप पर हिंदुओं का सामूहिक अंतिम संस्कार
हिंदू मत को मानने वालों के बीच ऐसी धारणा है कि जलाए जाने के बाद पुनर्जन्म होता है.
इंडोनेशिया के बाली द्वीप पर हिंदुओं का सामूहिक अंतिम संस्कार
बाली में सामूहिक शवदाह एक आम बात है. यहाँ ग़रीब परिवार इन परंपराओं को अकेले निर्वाह कर पाने में समर्थ नहीं होते.
इंडोनेशिया के बाली द्वीप पर हिंदुओं का सामूहिक अंतिम संस्कार
दो सितम्बर को हुए इस आयोजन में कुछ ऐसे लोग भी जलाए गए जिनकी मृत्यु पाँच साल पहले ही हो चुकी थी.