BBC navigation

पाकिस्तान में जीत का जश्न

 रविवार, 12 मई, 2013 को 12:28 IST तक के समाचार
  • पाकिस्तान में जैसे ही आम चुनाव के नतीजे आने शुरू हुए, पाकिस्तान मुस्लिम लीग (एन) को कार्यकर्ताओं ने जश्न शुरू कर दिया. नतीजों से साफ है कि अगली सरकार पीएमएल (एन) के नेता नवाज शरीफ के नेतृत्व में ही बनने जा रही हैं.
  • पीएमएल (एन) को सबसे ज्यादा कामयाबी पंजाब प्रांत मिली है जिसे उसका गढ़ माना जाता है. पंजाब में पाकिस्तान की लगभग 60 फीसदी आबादी रहती है.
  • बहुत से समर्थक पीएमएल(एन) के चुनाव निशान शेर के साथ जीत का जश्न मना रहे हैं. वैसे चुनाव प्रचार के दौरान पार्टी के जनसमर्थन को देखते हुए सभी रानजीतिक पंडित इस बात पर लगभग एकमत थे कि इस बार सबसे ज्यादा सीटें पीएमएल (एन) के खाते में ही आ सकती हैं.
  • नवाज शरीफ 14 साल बाद पाकिस्तान की सत्ता में लौट रहे हैं. पिछली बार 1999 में तत्कालीन सेना प्रमुख जनरल परवेज मुशर्रफ ने उनका तख्ता पलट कर सत्ता अपने हाथ में ले थी. नवाज शरीफ अब तक दो बार प्रधानमंत्री पद संभाल चुके हैं. अब वो अपनी तीसरी पारी के लिए तैयार हैं.
  • इन चुनावों में क्रिकेटर से राजनेता बने इमरान खान की पार्टी दूसरे स्थान पर आती दिख रही है. उसने पाकिस्तान की सबसे बड़ी पार्टी पाकिस्तान पीपल्स पार्टी को तीसरे नंबर पर धकेल दिया है.
  • चुनाव प्रचार के दौरान ही पाकिस्तान में सत्ता बदलने के संकेत मिल रहे थे लेकिन जैसे वोटों की गिनती शुरू हुई, ये बात पुख्ता होती चली गई. आम लोगों ने बढ़ चढ़ कर मतदान में हिस्सा लिया.
  • सेना प्रमुख जनरल अश्फाक परवेज कयानी में रावलपिंडी में अपना वोट डाला. पाकिस्तान में सेना बहुत ताकतवर मानी जाती है. ऐसे में सबकी नजरें इस बात पर टिकी हैं कि फौज के साथ नई सरकार के रिश्ते किस तरह के रहेंगे. मेमोगेट कांड को लेकर पिछली सरकार और सेना के बीच खासी तनातनी देखने को मिली थी.
  • आम लोगों ने तालिबान की धमकियों की परवाह नहीं की, जिसने आम लोगों को वोट न डालने को कहा था. चुनाव प्रचार के दौरान एक के बाद एक हमलों से मतदान के दिन सुरक्षा को लेकर सवाल उठ रहे थे. कराची में शनिवार को जब मतदान चल रहा था तो एएनपी पार्टी के दफ्तर के बाहर धमाके में 11 लोग मारे गए.
  • ये चुनाव पाकिस्तान पीपल्स के लिए सबसे निराशाजनक रहे, जो तीसरे नंबर पर जाती दिख रही है. पीपीपी के नेतृत्व वाली सरकार के कामकाज से आम लोगों को बहुत शिकायतें रहीं.

Videos and Photos

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.