BBC navigation

फैशन का है ये जलवा !

 रविवार, 17 मार्च, 2013 को 07:39 IST तक के समाचार
  • विल्स लाइफस्टाइल इंडिया फैशन वीक
    पेश है दिल्ली में चल रहे विल्स लाइफस्टाइल इंडिया फैशन वीक की एक झलक. इसमें डिज़ाइनर अनुपमा दयाल ने अपनी कलेक्शन में सूंई-धागे का बारीक काम दिखाने की कोशिश की है.
  • विल्स लाइफस्टाइल इंडिया फैशन वीक
    डिज़ाइनर पल्लवी मोहन के मुताबिक उन्होंने अपनी कलेक्शन में समझदार और बुद्धिमान महिलाओं के लिए कपड़े बनाए हैं, और उसे नाम दिया है – ‘नॉट सो सीरियस’
  • विल्स लाइफस्टाइल इंडिया फैशन वीक
    डिज़ाइनर पारोमिता बैनर्जी ने अपनी कलेक्शन में जापान की ‘बोरो’ तकनीक का इस्तेमाल किया. इसमें कपड़ों को दोबारा इस्तेमाल किया जाता है या पुराने कपड़ों की तुरपाई कर ठीक किया जाता है.
  • विल्स लाइफस्टाइल इंडिया फैशन वीक
    डिज़ाइनर सिद्धार्थ टाइटलर ने अपने कलेक्शन में ज़्यादातर नीले और काले रंगो का इस्तेमाल किया है और उनके मुताबिक ये कपड़े आज की महिला के मिज़ाज को दर्शाते हैं.
  • विल्स लाइफस्टाइल इंडिया फैशन वीक
    डिज़ाइनर सामंत चौहान की कलेक्शन का थीम है ‘राजपुताना बाइकर’ जिसमें उन्होंने कपड़ों में एक ज़मीनी अंदाज़ दिखाया है.
  • विल्स लाइफस्टाइल इंडिया फैशन वीक
    डिज़ाइनर तरुण तहलियानी ने अपनी कलेक्शन को कुंभ मेले के थीम पर बनाया है. इसमें नागा बाबाओं के रहन-सहन को दिखाने की कोशिश की गई है.
  • विल्स लाइफस्टाइल इंडिया फैशन वीक
    डिज़ाइनर विनीत बहल के मुताबिक उनकी कलेक्शन सादगी और स्टाइल का समागम है.
  • विल्स लाइफस्टाइल इंडिया फैशन वीक
    तरुण तहलियानी का कहना है कि वो खुद कुंभ मेला देखने गए थे औऱ उसी से प्रभावित हो, उन्होंने अपने कपड़े डिज़ाइन किए.
  • विल्स लाइफस्टाइल इंडिया फैशन वीक
    डिज़ाइनर सामंत चौहान ने अपने कपड़ों में सिल्क और कॉटन की साड़ियों और गाउन का इस्तेमाल किया है.

Videos and Photos

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.