BBC navigation

कैसा रहा देश भर में भारत बंद

 गुरुवार, 20 सितंबर, 2012 को 20:24 IST तक के समाचार
  • भारत बंद
    गुरूवार को सरकारी की आर्थिक नीतियों के विरोध में भारत भर में कई जगह प्रदर्शन हुए. इलाहाबाद में समाजवादी पार्टी के कार्यकार्ताओं ने ट्रेने रोकीं और प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह का पुतला जलाया.
  • भारत बंद
    प्रदर्शनकारियों का कहना है कि ये एक दिन का विरोध नहीं है और वो सरकारी नीतियों का विरोध आने वाले दिनों में जारी रखेंगे.
  • भारत बंद
    सरकार ने पिछले हफ्ते डीजल की कीमतों में 5 रुपये की वृद्धि करने के अलावा प्रत्येक परिवार को साल में सब्सिडी वाले सिर्फ छह रसोई गैस सिलेंडरों की सीमा तय कर दी है. खुदरा क्षेत्र और नागरिक उड्डयन क्षेत्र में विदेशी निवेश को भी अनुमति दे दी गई है.
  • भारत बंद
    प्रदर्शन करने वालों में विपक्षी दलों के अलावा सरकार को बाहर से समर्थन दे रही पार्टियाँ जैसे समाजवादी पार्टी भी शामिल है.
  • भारत बंद
    दिल्ली के कुछ हिस्सों जैसे लाजपत नगर में दुकानदारों ने दुकाने बंद रखी.
  • भारत बंद
    कई खुदरा व्यापारियों को डर है कि वॉल-मार्ट जैसी बड़ी कंपनियों के भारत आने से उनके व्यापार पर असर पड़ेगा.
  • भारत बंद
    मुख्य विपक्षी पार्टी भाजपा का कहना है कि सरकार के फैसले से भारत 'सेल्स बॉयज और सेल्स गर्ल के राष्ट्र' में तब्दील हो जाएगा.
  • भारत बंद
    अखिल भारतीय व्यापार परिसंघ के मुताबिक सरकार के फैसले से लगभग 70 करोड़ लोग बुरी तरह प्रभावित होंगे.
  • भारत बंद
    आलोचकों का कहना है कि डीजल के दाम बढ़ाए जाने से न सिर्फ माल की ढुलाई पर आने वाली लागत बढ़ने से महंगाई में इजाफा होगा, बल्कि किसानों पर भी बोझ बढ़ेगा.
  • भारत बंद
    योजना आयोग के उपाध्यक्ष मोंटेक सिंह अहलूवालिया का कहना है कि अगर सरकार ने अपने कदम पीछे हटाए तो इससे उसकी विश्वसनीयता को धक्का लगेगा.
  • भारत बंद
    सरकार के ताजा फैसलों से खफा होकर यूपीए गठबंधन से अलग होने वाली तृणमूल कांग्रेस की प्रमुख ममता बनर्जी ने हर साल परिवारों को कम दाम वाले कम से कम 24 गैस सिलेंडर दिए जाने की भी मांग की. यहाँ भाजपा नेता और पूर्व क्रिकेटर नवजोत सिद्दू अपना विरोध जताते हुए.
  • भारत बंद
    सरकार का कहना है कि तेल और गैस कंपनियों को हो भारी घाटे को देखते हुए उसके सामने कोई चारा नहीं है.

Videos and Photos

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.