हॉकी खिलाड़ी केडी सिंह बाबू के अनछुए पहलू

मीडिया प्लेयर

इस ऑडियो/वीडियो के लिए आपको फ़्लैश प्लेयर के नए संस्करण की ज़रुरत है

किसी और ऑडियो/वीडियो प्लेयर में चलाएँ

केडी सिंह बाबू, इसी नाम से याद किए जाते हैं कुँवर दिग्विजय सिंह बाबू.

वो भारत में हॉकी के जादूगर मेजर ध्यानचंद के बाद सबसे ज़्यादा सम्मानित हॉकी खिलाड़ी रहे हैं.

दो फ़रवरी को उनके जन्म की 88वीं वर्षगाँठ है.

उनके व्यक्तित्व के अनेक अनछुए पहलू हैं- जो उन्हें स्टिक की कला का माहिर, ज़िंदादिल इंसान, दूसरों की मदद करने को तत्पर, दूरदृष्टा और बेहद स्वाभिमानी व्यक्ति साबित करते हैं.

केडी सिंह बाबू के ऐसे ही अनछुए पहलुओं को जानने की कोशिश की है मलय नीरव ने.

BBC navigation

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.