असांज इक्वेडोर दूतावास 'जल्द छोड़ेंगे'

  • 18 अगस्त 2014
जूलियन असांज

विकीलीक्स के संस्थापक जूलियन असांज ने कहा है कि वह लंदन स्थित इक्वेडोर दूतावास 'जल्द ही छोड़ देंगे'.

असांज लगभग दो वर्षों से वहाँ हैं और उन्होंने ये स्पष्ट नहीं किया कि वह दूतावास कब छोड़ेंगे.

लंदन में एक पत्रकार सम्मेलन में उन्होंने कहा, "मैं जल्द ही दूतावास छोड़ दूंगा."

उन्होंने कहा कि उनकी सेहत में ख़ासी गिरावट आई है.

दूसरी ओर इक्वेडोर के विदेश मंत्री रिकार्डो पैटीनो ने बताया कि असांज को 'सुरक्षा' दी जाती रहेगी.

क्या है मामला ?

जूलियन असांज

43 साल के असांज को स्वीडन में कथित यौन दुर्व्यवहार के मामले में पूछताछ के लिए बुलाया गया है. दो महिलाओं ने उन पर ये आरोप लगाए हैं, जिनका असांज ने खंडन किया है.

इसी सिलसिले में साल 2012 में एक कोर्ट ने उनके प्रत्यर्पण का आदेश दिया था जिसके फ़ौरन बाद उन्होंने इक्वेडोर दूतावास में शरण मांगी थी. फिर उन्हें राजनयिक संरक्षण दिया गया.

'डर'

जूलियन असांज

असांज के मुताबिक़ डर इस बात का है कि उन्हें अमरीका को सौंप दिया जाएगा.

विकीलीक्स ने अफ़गानिस्तान और इराक़ युद्ध से संबंधित कुछ अमरीकी सैन्य कागज़ात सार्वजनिक किए थे.

ब्रितानी मीडिया में छपी रिपोर्ट्स के मुताबिक़ असांज दिल की एक बीमारी से जूझ रहे हैं और उनके फेफड़ों में भी कुछ गड़बड़ी है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार