नार्वे में डेनिश मांस खाने पर मनाही

  • 13 अगस्त 2014
डेनमार्क का रुलपोस्ले सॉसेज

नॉर्वे के स्वास्थ्य अधिकारियों ने कहा है कि डेनमार्क से आए माँस और उससे बनी चीज़ें न ख़रीदें.

लीस्टिरिया नाम की बीमारी से डेनमार्क में 12 लोगों की मौत हो चुकी है और आठ लोग बीमार पड़ चुके हैं जिसके बाद पड़ोसी देश नॉर्वे ने यह क़दम उठाया है.

डेनिश अधिकारियों को शक़ है कि मौतें, लिस्टीरिया पैदा करने वाले बैक्टीरिया से संदूषित सूअर के मांस या सॉसेज से हुई हैं.

माना जा रहा है संक्रमण डेनमार्क की राजधानी कोपेनहेगन के नज़दीक सॉसेज बनाने वाली कंपनी से फैला है.

लिस्टीरिया बीमारी में अक्सर बुखार, सिरदर्द, दस्त और उल्टियाँ होती हैं.

लक्षण पता चलने में समय

बीमारी के लक्षण सामने आने में दो महीने तक लग सकते हैं जिसकी वजह से बीमारी का कारण पता लगा पाना मुश्किल हो जाता है.

ये बीमारी फ्रिज में रखे पहले से तैयार खाद्य पदार्थों के ज़रिए भी फैल सकती है.

इस बीमारी से, ख़ास तौर पर छोटे बच्चों और कम रोग प्रतिरोधक क्षमता वाले लोगों में घातक संक्रमण हो सकता है.

डेनमार्क के खाद्य मंत्रालय का कहना है कि वह ये सुनिश्चित नहीं कर सकता कि लिस्टीरिया से और मौते नहीं होंगी.

हाल के दिनों में स्वीडन और जर्मनी ने भी लिस्टीरिया फैलने के बारे में अलर्ट जारी किए हैं.

(बीबीसी हिंदी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)