कैमरून के उप प्रधानमंत्री की पत्नी अग़वा

  • 27 जुलाई 2014
बोको हराम

कैमरून की सेना का कहना है कि नाइजीरिया के चरमपंथी संगठन बोको हराम ने कैमरून के उप प्रधानमंत्री अमादोअ अली की पत्नी को कैमरून के उत्तरी शहर कोलोफ़ाता से अग़वा कर लिया है.

सूचना मंत्री इस्सा चिरोमा ने कहा कि उप प्रधानमंत्री अमादोअ अली की पत्नी और उनकी कामवाली को उनके घर पर "भीषण हमला" कर चरमपंथी उठा ले गए हैं.

कर्नल फ़लीज़ नजी फोर्मकांग ने समाचार एजेंसी रायटर्स को बताया कि अली हमले में बच कर निकलने में कामयाब हुए. हमले के वक़्त अली रोज़ा खोलने के लिए इफ़्तार करने बैठे थे.

कैमरून की सीमा में प्रवेश

एक स्थानीय धार्मिक नेता और मेयर भी इसे इलाके से अग़वा किए जा चुके हैं.

कैमरून की सेना

एक अन्य घटना में कम से कम पांच लोग उत्तरी नाइजीरिया में विस्फोट में मारे गए हैं.

स्थानीय निवासियों ने विस्फोट के पीछे बोको हराम का हाथ होने की आशंका जताई है.

बोको हराम हाल के हफ़्तों में कैमरून की सीमा में प्रवेश कर चरमपंथी हमलों को अंजाम दे रहा है.

विदेशी नागरिकों को अग़वा

फ्रेंच धार्मिक गूरू

बोको हराम की घुसपैठ के मद्देनज़र क्षेत्र में सेना को तैनात किया गया है.

चरमपंथी उत्तरी कैमरून में एक फ्रेंच परिवार और चीनी कामगारों समेत कई विदेशी नागरिकों को अग़वा कर चुके हैं.

शुक्रवार को चरमपंथी समूह के 20 से ज़्यादा सदस्यों को कैमरून में ग़ैर-क़ानूनी तरीके से हथियार रखने और बगावत की साजिश रचने की वजह से जेल भेजा गया है.

चरमपंथी समूह बोको हराम नाइजीरिया में इस्लामी राज्य की स्थापना करना चाहते हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)