एंटी टैंक रॉकेट लेकर पुलिस के पास पहुंचा किशोर

  • 10 जून 2014
ऑस्ट्रिया, द्वितीय विश्व युद्ध, एंटी टैंक मिसाइल, रॉकेट

ऑस्ट्रिया में एक 16 साल के किशोर ने पुलिस की जान सुखा दी जब वह दूसरे विश्व युद्ध काल की एक एंटी-टैंक मिसाइल को अपनी मोपेड में लेकर पुलिस के पास पहुंच गया.

टीवी चैनल ओआरएफ़ की रिपोर्ट के अनुसार इस किशोर को साल्ज़बर्ग के नज़दीक वालेरसी झील के किनारे एक कैंपसाइट में एक बाज़ूका रॉकेट मिला.

उसने उस मिट्टी में लिपटे रॉकेट को अपने थैले (रकसैक) में डाला और मोपेड शुरू कर पहुंच गया पुलिस के पास.

हालांकि जल्द ही उन्हें पता चल गया कि यह ख़तरनाक नहीं है लेकिन फिर भी उस किशोर की उसकी हरकत के लिए ठीक से खिंचाई की गई.

'दूर रहें'

साल्ज़बर्ग के पुलिस प्रवक्ता ओर्टविन लांपेक्ट ने क्रोनेन ज़ीटुंग अख़बार से कहा, "दरअसल वह सही काम करना चाहता था लेकिन दरअसल उसने जो किया वह ग़लत था."

"हालांकि उस एंटी-टैंक रॉकेट में न तो फ़्यूज़ था और न ही विस्फ़ोटक. लेकिन उस लड़के को यह पता नहीं चलता."

लांपेक्ट ने अख़बार से यह भी कहा कि अगर किसी को कोई पुराना विस्फ़ोटक मिलता है तो उसे पुलिस को बताना चाहिए और लोगों को उससे दूर रखना चाहिए.

"मुख्य बात यह है कि आप खुद इससे दूर रहें और विशेषज्ञों को इससे निपटने दें."

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार